अधिकतर वार्डों में नहीं पहुंचा नल का जल, तैयारी अधूरी

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

नवादा नगर : होली के बाद से गर्मी की शुरुआत हो जाती है. जिले में पिछले वर्ष गर्मी के शुरुआत में ही पेयजल की किल्लत शुरू हो गयी थी. जलस्तर में लगातार हो रही गिरावट का असर इस बार भी पानी की उपलब्धता पर पड़ेगा. इस बार पानी की कमी न हो इसके लिए काम में तेजी लानी होगी.

इस समस्या से निजात के लिए मुख्यमंत्री सात निश्चय योजना के तहत हर घर तक नल का जल पहुंचाने की योजना को तेजी से अमलीजामा पहनाया गया. जिले में कुल 187 प्रखंडों के 1531 वार्डों में नल का जल पहुंचाने का लक्ष्य रखा गया है.
पीएचइडी द्वारा 1008 वार्डों में वाटर सप्लाई करने की जिम्मेदारी है. इसके पहले 523 वार्डों में पंचायती राज द्वारा नल जल योजना को पूरा किया जा रहा था. विभागीय आंकड़ों के अनुसार, कुल 646 वार्डों में वाटर सप्लाई शुरू हो चुकी है. इससे लगभग 24,500 घरों में नल का जल पहुंचाया जा रहा है. 1531 वार्डों में पहुंचाना है.
सुखाड़ प्रभावित रहता है जिला
जिले में खाने की कमी के साथ पानी की कमी रहती है. हर घर नल का जल योजना को धरातल पर उतारने के काम को तेजी से करने की जरूरत है.
पीएचइडी के अनुसार, मार्च तक सभी वार्डों में काम पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है. पीएचइडी द्वारा 175 वार्डों में काम पूरा कर लिया गया है. इसके अलावा 978 वार्डों में कार्य प्रगति पर है. शेष 30 वार्डों में निर्माण की प्रक्रिया जल्द शुरू होगी.
पंचायती राज द्वारा बनाये गये 471 एवं पीएचइडी द्वारा बने 175 वार्डों में यानी कुल 646 वार्डों के 24 हजार पांच सौ घरों में वाटर सप्लाई कनेक्शन दिया गया है. पीएचइडी को काम करने के लिए एग्रीमेंट करके काम को तय समय में पूरा करने का दबाव दिया जा रहा है. दूर तक बसे घरों में नल जल योजना का लाभ आम जन तक पहुंचाया जा रहा है. नल जल योजना में गुणवत्तापूर्ण कार्य करने वाले संवेदक को प्राथमिकता दिया गया है.
मोटर की देख-रेख के लिए अनुरक्षक बहाल
वार्ड स्तर पर वाटर सप्लाई के लिए बने मोटर की देखरेख के लिए स्थानीय लोगों को ही अनुरक्षक का काम सौंपा गया है. अनुरक्षक का कार्य वार्ड में पानी की सप्लाई बाधित होने पर सूचना देना, मोटर चलाना, मोटर बंद करना आदि कार्यों दिये गये हैं.
वार्ड स्तर पर अनुरक्षक की नियुक्ति बीडीओ के स्तर से की जानी है. पानी की सुविधा हो जाने के बाद नल जल योजना से संबंधित उपभोक्ता से शुल्क की वसूली भी समय पर करते रहना है. पीएचइडी द्वारा दी गयी जानकारी के अनुसार योजना के सफल संचालन के लिए वाटर सप्लाई के बाद एक निश्चित राशि भी उपभोक्ताओं से वसूल करना है.
मार्च तक पूरा हो जायेगा काम
नल जल योजना के तहत सभी वार्डों में काम शुरू है. इसे मार्च तक पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है. फिलहाल पीएचइडी द्वारा बनाये गये 175 तथा पंचायती राज के वार्ड समिति द्वारा बने 471 योजना चालू है. इससे लगभग 24500 घरों को कनेक्शन दिया गया है.
चंदेश्वर राम, कार्यपालक पदाधिकारी, पीएचइडी
संबंधित आंकड़े
पीएचईडी को 1008 वार्डों में पूरा करना है काम
978 वार्डों में वाटर टंकी व सप्लाई कनेक्शन का काम प्रगति पर
523 वार्डों में पंचायती राज से होना है काम, 471 में पूरा
1008 वार्डों में होना है काम, 175 में पूरा, 978 में प्रगति पर, 30 में टेंडर प्रक्रियाधीन
कुल पंचायत 187
कुल वार्ड 1531
वार्ड समिति की चालू योजना471
पीएचइडी की चालू योजना 175
    Share Via :
    Published Date
    Comments (0)
    metype

    संबंधित खबरें

    अन्य खबरें