1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. muzaffarpur
  5. mujaffarpur flood affected area is going to get boat ambulance operated by sdrf

मुजफ्फरपुर के बाढ़ प्रभावित इलाके में अब नहीं होगी परेशानी, बोट एंबुलेंस से होगा इलाज

मुजफ्फरपुर जिले में संभावित बाढ़ के खतरे को देखते हुए आपदा विभाग व जिला स्वास्थ्य समिति तैयारियों में जुट चुकी है. बाढ़ प्रभावित इलाकों में राहत शिविरों के साथ-साथ राशन, दवाओं व अन्य सामग्रियों की उपलब्धता के लिए भी प्लान तैयार कर लिया गया है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
बोट एंबुलेंस से होगा इलाज
बोट एंबुलेंस से होगा इलाज
प्रभात खबर

मुजफ्फरपुर जिले में संभावित बाढ़ के खतरे को देखते हुए आपदा विभाग व जिला स्वास्थ्य समिति तैयारियों में जुट चुकी है. बाढ़ प्रभावित इलाकों में राहत शिविरों के साथ-साथ राशन, दवाओं व अन्य सामग्रियों की उपलब्धता के लिए भी प्लान तैयार कर लिया गया है. इस क्रम में स्वास्थ्य विभाग को प्रभावित इलाकों में नौका अस्पताल संचालित करने का भी निर्देश दिया गया है.

मेटरनिटी हट डिलेवरी किट की भी व्यवस्था रहेगी

बाढ़ के दौरान लोगों को इलाज के लिए अस्पताल या शिविर में आने के लिए अब जद्दोजहद नहीं करनी पड़ेगी. विभागीय निर्देश के तहत गर्भवती महिलाओं के प्रसव के लिए नौका अस्पताल में मेटरनिटी हट डिलेवरी किट की भी व्यवस्था रहेगी. जहां जरूरत होगी, वहीं मेटरनिटी हट (नाव पर लगने वाली प्रसव झोंपड़ी ) लगा कर प्रशिक्षित महिला नर्स अथवा डॉक्टर महिलाओं की डिलेवरी करायेंगी.

जरूरत पड़ने पर नौका एंबुलेंस की सुविधा बाढ़ के दौरान उन स्थानों पर ली जाएगी. जहां भोजन, पानी से कहीं ज्यादा इलाज और दवाओं की समस्या उत्पन्न होती है. शुद्ध पेयजल के अभाव में डायरिया, जलजनित बीमारी के अलावा महामारी, सांप-बिच्छुओं के काटने से बाढ़ से घिरे लोग काल-कलवित होते हैं.

SDRF के सहयोग से होगा संचालन 

बाढ़ से बुरी तरह घिरे लोगों को राहत शिविर में लगे हेल्थ कैंप अथवा अस्पताल तक पहुंचना बहुत मुश्किल होता है. ऐसे में बाढ़ से घिरी आबादी के बीच जा कर मेडिकल स्टाफ मरीजों का इलाज कर सकेंगे और उन्हें दवाइयां भी देंगे. बोट एंबुलेंस को राज्य आपदा प्रतिक्रिया कोष (SDRF) के सहयोग से संचालित किया जाएगा.

सुरक्षित स्थान पर पहुंचाने के लिए 496 नाव की व्यवस्था

बाढ़ प्रभावित लोगों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचाने के लिए 496 नाव की व्यवस्था की जा रही है. इसमें 428 निजी नाव का निबंधन प्रारंभ हो चुका है. जिला आपातकालीन संचालन केंद्र की ओर से कम्युनिकेशन प्लान भी तैयार कर लिया गया है.

Prabhat Khabar App :

देश-दुनिया, बॉलीवुड न्यूज, बिजनेस अपडेट, मोबाइल, गैजेट, क्रिकेट की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

googleplayiosstore
Follow us on Social Media
  • Facebookicon
  • Twitter
  • Instgram
  • youtube

संबंधित खबरें

Share Via :
Published Date

अन्य खबरें