25.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

आधी रात इंजीनियर से लूटपाट, विरोध किया तो कर दी हत्या

आधी रात इंजीनियर से लूटपाट, विरोध किया तो कर दी हत्या

-गोबरसही से इमलीचट्टी जाने के दौरान अपराधियों ने की वारदात -सकरा थाना क्षेत्र के फरीदपुर गांव का रहनेवाले थे मो. हारीश -चक्कर मैदान रोड में रबर कंपनी के जूनियर इंजीनियर की चाकू घोंपकर हत्या -मृतक के सीने में बायीं तरफ दो जगहों पर मिले चाकू के गहरे जख्म के निशान मुजफ्फरपुर. गोबरसही से पावर हाउस चौक जाने वाले रास्ते में सेना के कैंटीन के समीप अपराधियों ने चाकू मारकर इंडिगो रबर कंपनी के जूनियर इंजीनियर मो. हारीश (35) की हत्या कर दी. वह सकरा थाना क्षेत्र के फरीदपुर गांव के रहनेवाले थे. घटना शनिवार रात दो से तीन बजे के करीब हुई. मृतक के सीने में बायीं तरफ दो चाकू से वार किये गये थे. उनका शव सड़क किनारे पड़ा था. राहगीरों ने सुबह करीब पांच बजे घटना की सूचना डायल 112 की टीम को दी. इसके बाद काजीमोहम्मदपुर थाने की पुलिस टीम मौके पर पहुंची. शव काे पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया. मृतक फॉर्मल शर्ट व पैंट पहने हुए था. जूता व पीठ में बैठ टांगा हुआ था. पुलिस ने घटनास्थल को चारों तरफ पट्टी से घेर दिया. सिटी एसपी अवधेश सरोज दीक्षित व एएसपी टाउन भानु प्रताप सिंह, काजीमोहम्मदपुर थानेदार मनोज कुमार साह पुलिस टीम के साथ मौके पर पहुंचे. गोबरसही चौक से लेकर पावर हाउस चौक तक के सीसीटीवी फुटेज को देखा. छानबीन में पता चला है कि रात्रि करीब 3:58 बजे एक स्कूटी पर सवार युवक पावर हाउस चौक के समीप होटल के बाहर तैनात गार्ड को सड़क के किनारे एक व्यक्ति के जख्मी हालत में गिरे होने की जानकारी दी थी. मृतक के पॉकेट से मोबाइल व पर्स गायब है. पुलिस अपराधियों का सुराग लगाने के लिए सीसीटीवी फुटेज खंगालने में जुटी हुई थी. मृतक मो. हारीश के ससुर अब्दुल हइव चंदवारा हजरत अली एकेडमी के प्रिंसिपल है. उन्होंने बताया कि बेटी तूबा अम्बरीन की शादी पांच साल पहले सकरा के फरीदपुर निवासी मो. हारिश से की थी. उसका पूरा परिवार दिल्ली में रहता है. दामाद दिल्ली में इंडिगो रबर एजेंसी में जूनियर इंजीनियर के पद पर था. प्रत्येक महीने 10 से 25 तारीख तक वह क्वालिटी चेक के लिए हमेशा टूर पर रहते थे. पुलिस को मृतक के पैकेट से आइकार्ड मिला जिससे उसकी पहचान की गयी. फिर, सकरा स्थित उसके पैतृक गांव में खबर दी. जहां से चंदवारा स्थित उसके ससुराल में इसकी जानकारी हुई. फिर, मृतक के गांव व ससुराल से लोग काजीमोहम्मदपुर थाने पहुंचे. एएसपी टाउन ने थाने पर मृतक के परिजनों से पूछताछ की है. बेटे के जन्म होने की खुशी मनाने पर हजारीबाग से आए थे मुजफ्फरपुर मो. हारीश की पत्नी तूबा ने 30 मई की देर रात इमलीचट्टी स्थित निजी क्लिनिक में बेटे को जन्म दी थी. इसकी जानकारी जब मो. हारीश को मिली तो वह कंपनी के काम से झारखंड के हजारीबाग में थे. वहां से उनको चतरा जाना था. लेकिन, बेटे की खुशी में वह छुट्टी लेकर मुजफ्फरपुर के लिए चल दिये. उनके पहले से ही दो बेटे हैं. पटना में बस में बैठ रात्रि 11: 18 बजे ससुर से की थी बात मो. हारीश शुक्रवार की रात 11:18 बजे पटना में मुजफ्फरपुर की बस में बैठकर अपने ससुर को फोन किया था. करीब चार मिनट तक बातचीत की थी. मृतक के ससुर का कहना है कि उन्होंने हारिश को रात में पटना में ही रुकने को कहा था. लेकिन वह बस में बैठ गया. उन्होंने समझाया कि गोबरसही में बस से उतरने के बाद ऑटो रिजर्व कर इमलीचट्टी स्थित हॉस्पिटल चले जाना, जहां उसकी पत्नी एडमिट है. एफएसएल ने जुटाए साक्ष्य, रात्रि 1:47 बजे तक व्हाट्सएप था ऑनलाइन घटनास्थल पर एफएसएल की टीम को बुलाया गया करीब पांच मीटर तक ब्लड गिरा हुआ था. जो धूप होने के कारण सूख गया था. एफएसएल की टीम ने घटनास्थल से ब्लड का सैंपल व मिट्टी का नमूना लिया. वहीं, मृतक मो. हारीश के व्हाट्सएप नंबर को चेक किया तो पता चला कि रात्रि 1:47 तक व्हाट्सएप पर ऑनलाइन थे. इसके बाद बंद हो गया. वहीं, मृतक के ससुर का कहना है कि सुबह चार बजे जब हॉस्पिटल बेटी को फोन करके पूछा कि दामाद पहुंचे तो वह बोली कि नहीं आए. इसके बाद सुबह पांच बजे से लेकर 12 बजे तक दर्जनों बार कॉल किया मोबाइल कवरेज एरिया से बाहर बता रहा था. ऑटो सवार अपराधियों पर शक मृतक के ससुर का आरोप है कि गोबरसही में बस से उतरने के बाद वह इमलीचट्टी के लिए ऑटो रिजर्व किये होंगे. आजकल ऑटो में पहले से ही दो से तीन अपराधी को सवार बनाकर चालक बिठाये रहते हैं. उनके दामाद को भी झांसे में लेकर बैठा लिया होगा. फिर, ऑटो ले जाने के बाद कहीं लूटपाट करने लगे होंगे. विरोध करने पर चाकू से मारकर हत्या कर दी. या फिर पैदल ही जाने के दौरान कहीं अपराधियों ने अकेला पाकर तो लूटपाट के दौरान हत्या कर दी. इन सभी बिंदुओं पर जांच जारी है. सर्विलांस टीम ने टावर किया डंप, मोबाइल के लोकेशन को कर रही ट्रेस अपराधियों का सुराग लगाने के लिए पुलिस वैज्ञानिक तरीके से भी सुराग जुटा रही है. डीआइयू व सर्विलांस टीम भी घटनास्थल पर पहुंच कर टावर डंप कर अपराधियों का सुराग लगा रही है. वहीं, जूनियर इंजीनियर की हत्या के बाद लूटे गए मोबाइल का सुराग लगा रही है. गोबरसही चौक से पावर हाउस चौक के बीच में एक व्यक्ति का हत्या करके फेंका हुआ मिला है. एएसपी टाउन के नेतृत्व में पुलिस टीम काम कर रही है. एक जगह मृतक सीसीटीवी में पैदल जाता हुआ दिखा है. जल्द ही मामले का खुलासा कर लिया जाएगा. -अवधेश सरोज दीक्षित, सिटी एसपी

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें