1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. muzaffarpur
  5. coronavirus in bihar 32 doctors in muzaffarpur corona positive sadar hospitals opd service closed for two days in muzaffarpur read muzaffarpur doctor corona positive news updates

Coronavirus In Bihar : मुजफ्फरपुर में 32 डॉक्टर कोरोना पॉजिटिव, सदर अस्पताल की ओपीडी सेवा दो दिनों के लिए बंद...

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
सांकेतिक फोटो
सांकेतिक फोटो
Twitter

मुजफ्फरपुर: सदर अस्पताल के दो चिकित्सकों के कोरोना पॉजिटिव पाये जाने के बाद अस्पताल की ओपीडी सेवा को अगले 48 घंटे के लिए बंद कर दिया गया है. इमरजेंसी व प्रसव सेवा जारी रहेगी. जिले में शनिवार को फिर कोरोना के 46 पॉजिटिव मरीज मिले हैं. उनमें एक डॉक्टर भी हैं. इसके साथ ही पॉजिटिव मरीजों की कुल संख्या 503 हो गयी है. वहीं संक्रमित डॉक्टरों की संख्या बढ़कर अब 32 हो गई है. स्वस्थ्य हुए मरीजों की संख्या 286 है. कोरोना संदिग्धों के 523 सैंपल की जांच में 54 की रिपोर्ट पॉजिटिव आयी. श्री कृष्ण मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य डॉ विकास कुमार ने इसकी पुष्टि की है.

मंगलवार से ओपीडी सेवा पुनः बहाल कर दी जायेगी

सदर अस्पताल को पूरी तरह सैनिटाइज करने व सुरक्षा मानकों की जांच के बाद मंगलवार से ओपीडी सेवा पुनः बहाल कर दी जायेगी. यह फैसला डीएम डॉ चंद्रशेखर सिंह की अध्यक्षता में शनिवार की शाम हुई उच्चस्तरीय बैठक में लिया गया. बैठक में समीक्षा के बाद तय हुआ कि फिलहाल जूरन छपरा व उसके आसपास के क्षेत्र को कंटोनमेंट जोन घोषित करने की जरूरत नहीं है.

जिलाधिकारी ने कहा अभी कम्युनिटी स्प्रेड नहीं है

जिलाधिकारी ने कहा कि जिन अस्पतालों या संस्थानों के चिकित्सक कोरोना पॉजिटिव पाये गये हैं, वहां के अन्य चिकित्सकों व पारामेडिकल कर्मियों की जांच करायी जा रही है. ऐसे संस्थानों मे नये मरीजों की भर्ती पर रोक है. चिकित्सकों द्वारा जिन-जिन मरीजों का ट्रीटमेंट किया गया है, उनकी सूची संबंधित चिकित्सक और संस्थान द्वारा उपलब्ध करायी जा रही है. उन्होंने कहा कि अभी कम्युनिटी स्प्रेड नहीं है.

अस्पताल खुलने के साथ ही सदर अस्पताली के कर्मियों ने हंगामा किया

प़ॉजिटिव चिकित्सकों के क्लोज कॉन्टेक्ट की जांच रिपोर्ट आने के बाद जूरन छपरा को कंटोनमेंट जोन घोषित करने पर निर्णय होगा. बैठक में सदर अस्पताल के अधिकारी, एसकेएमसीएच के प्राचार्य, अधीक्षक व चिकित्सक उपस्थित थे. इसके पहले शनिवार की सुबह अस्पताल खुलने के साथ ही सदर अस्पताली के कर्मियों ने हंगामा किया और ओपीडी सेवा को बंद करने की मांग की. उनका कहना था कि सुरक्षा के लिहाज से ओपीडी को दस दिनों के लिए बंद कर देना चाहिए.

शुक्रवार तक 31 डॉक्टर मिल चुके थे पॉजिटिव

बता दें कि, शुक्रवार को जिले में 58 लोग कोरोना पॉजिटिव मिले थे. उनमें 21 डॉक्टर हैं. इसके साथ ही पिछले तीन दिनों में कोरोना संक्रमण की चपेट में आये चिकित्सकों की संख्या बढ़ कर 31 हो गयी है.तेजी से बढ़ते मामलों के बीच जिला प्रशासन ने शहर के दस अस्पतालों व क्लिनिक में नये मरीजों की भर्ती और ओपीडी सेवा पर रोक लगा दी है.

Posted by : Thakur Shaktilochan Shandilya

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें