1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. coronavirus bihar update bihar me corona case update horrific form of corona in bihar from last april to april 2021 upl

Coronavirus Bihar Update: बिहार में कोरोना का भयावह रूप, पिछले साल एक से 5 अप्रैल तक था 11 केस, इस बार 3297

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
कोरोना महामारी ने इस साल अपना भयावह रूप दिखाना शुरू कर दिया
कोरोना महामारी ने इस साल अपना भयावह रूप दिखाना शुरू कर दिया
File

Coronavirus Bihar Update: कोरोना महामारी ने इस साल अपना भयावह रूप दिखाना शुरू कर दिया है. बिहार में पिछले साल अप्रैल माह के पांच दिनों में सिर्फ 11 केस की तुलना में इस वर्ष अप्रैल के पांच दिनों में कुल 3297 नये केस पाये गये हैं. इस वर्ष कोरोना संक्रमितों की संख्या कम होने के बजाय बढ़ती ही चली जा रही है.

कोरोना के नये पॉजिटिवों की संख्या के अनुसार देखा जाये तो पहली अप्रैल 2020 को तीन नये पॉजिटिव, दो अप्रैल को पांच नये पॉजिटिव, तीन अप्रैल को दो नये कोरोना पॉजिटिव, चार अप्रैल को एक नये कोरोना पॉजिटिव जबकि पांच अप्रैल 2020 को एक भी नया कोरोना पॉजिटिव केस नहीं मिला थी. इसकी तुलना अप्रैल 2021 से की जाये तो पहली अप्रैल को ही 488 नये कोरोना पॉजिटिव, दो अप्रैल को 662 नये पॉजिटिव, तीन अप्रैल को 836 नये कोरोना पॉजिटिव, चार अप्रैल को 864 नये कोरोना पॉजिटिव जबकि पांच अप्रैल को 935 नये कोरोना पॉजिटिव के केस पाये गये हैं.

यह संख्या पिछले साल की तुलना में अप्रत्याशित है. होली के बाद से खराब हो रही स्थिति के मद्देनजर बिहार सरकार चिंतित है. तभी तो पहले सरकार ने शिक्षण संस्थानों को बंद करने के साथ ही अन्य बंदिशें लगाने का फैसला लिया. अब मुख्यमंत्री नीतीश कुमार खुद एक्टिव मोड में आ गए हैं. मंगलवार को ही उन्होंने कोराना की समीक्षा बैठक कर अधिकारियों को कई दिशा-निर्देश दिए.

उन्होंने आगामी पर्व त्योहार और शादियों के सीजम के मद्देनजर कहा कि दूसरे राज्यों से आने वाले लोगों की जांच पर ध्यान दिया जाए. प्रखंड स्तर पर फिर से कोरेंटिन सेंटर की व्यवस्था दुरुस्त रहे. सीएम नीतीश ने ज्यादा से ज्यादा लोगों के टीकाकरण और पूरे राज्य में अधिक टेस्टिंग की बात कही.

Bihar me corona: कोरोना हर रोज अपना ही रिकॉर्ड तोड़ रहा

गौरतलब है कि बिहार में कोरोनावायरस (Bihar Me Corona) ने एक बार फिर से तांडव शुरू कर दिया है. सरकारी आंकड़े न सिर्फ चौंकाने वाले बल्कि भयावह भी हैं. कोरोना हर रोज अपना ही रिकॉर्ड तोड़ रहा है. हाल ये है कि बिहार में फिर से स्कूल-कॉलेजों पर ताला लग गया है, वहीं भीड़भाड़ को लेकर कई अन्य पाबंदियां भी लगीं हैं.

कोरोना को लेकर राज्य में संक्रमितों की स्थिति संतोषजनक होने लगी थी कि होली के पूर्व से चल रही इस स्थिति में तेजी से बदलाव होने लगा. मार्च में पहली बार 18 मार्च को 100 से अधिक की संख्या में नये पॉजिटिव मिलने लगे. हालात की भयावहता का अंदाजा इस बात से लगा सकते हैं कि बिहार में बीते 30 दिन में 5 हजार से ज्यादा नये मामले सामने आएं हैं.

Posted By: Utpal Kant

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें