1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. corona crisis in bihar but politics start on night curfew in bihar upendra kushwaha reply to bjp bihar chief sanjay jaiswal nitish kumar news upl

बिहार में कोरोना संकट मगर नाइट कर्फ्यू पर सियासत, अब उपेंद्र कुशवाहा ने बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष को दी नसीहत

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
 मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के बचाव में खुल कर उतरे उपेंद्र कुशवाहा
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के बचाव में खुल कर उतरे उपेंद्र कुशवाहा
FIle

बिहार में कोरोना संक्रमण के दूसरे लहर की स्थिति विस्‍फोटक होती जा रही है. हर दिन नए संक्रमितों का रिकॉर्ड ध्‍वस्‍त हो रहा है. कोरोना के चेन को तोड़ने के लिए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बीते दिनों कई सारी बंदिशों के साथ नाइट कर्फ्यू का एलान किया. राज्य में रात नौ बजे के बाद नाइट कर्फ्यू लागू होने से कोरोना के केस तो कम नहीं हुए लेकिन सियासत जरूर होने लगी.

बुधवार को ये मसला अचानक से चर्चा में आ गया क्योंकि हाल ही में जदयू में शामिल होने वाले उपेंद्र कुशवाहा ने भाजपा प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल को नसीहत दे डाली. उपेंद्र कुशवाहा ने ट्वीट कर कहा कि जायसवाल जी, अभी राजनीतिक बयानबाजी का वक्त नहीं है !.

बिहार में कोरोना संकट मगर नाइट कर्फ्यू पर सियासत, अब उपेंद्र कुशवाहा ने बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष को दी नसीहत

दरअसल बीते दिनों संजय जायसवाल ने अपने फेसबुक पोस्ट के जरिए बिहार में नाइट कर्फ्यू के फैसले पर सवाल उठाया था. इससे पहले विपक्ष ने भी नाइट कर्फ्यू को लेकर नीतीश सरकार पर हमला बोला था.

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल ने पोस्ट में लिखा था- 'मैं कोई विशेषज्ञ तो नहीं हूं फिर भी सभी अच्छे निर्णयों में से इस एक निर्णय को समझने में असमर्थ हूं कि रात का कर्फ्यू लगाने से कोरोना वायरस का प्रसार कैसे बंद होगा. अगर कोरोना वायरस के प्रसार को वाकई रोकना है तो हमें हर हालत में शुक्रवार शाम से सोमवार सुबह तक की बंदी करनी होगी. घरों में बंद इन 62 घंटों में लोगों को अपनी बीमारी का पता चल सकेगा और उनके बाहर नहीं निकलने के कारण बीमारी के प्रसार को रोकने में कुछ मदद अवशय मिलेगी."

उनके फेसबुक पोस्ट के आधार पर खबरें बनीं. बुधवार को उपेंद्र कुशवाहा ने ऐसी ही एक रिपोर्ट को रिट्वीट करते हुए संजय जायसवाल से राजनीति नही करने को कहा. गौरतलब है कि लोकसभा चुनाव के पहले उपेंद्र कुशवाहा पाला बदलकर महागठबंधन में चले गए थे लेकिन विधानसभा चुनाव के बाद हाल ही में उनकी पार्टी का जदयू में विलय हो गया.

Posted By: Utpal kant

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें