25.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

कोसुम्भा गांव में छत पर सोयी बच्ची की गोलीमार कर हत्या

कोसुम्भा थाना क्षेत्र के बगहिया टोला में अपने घर के छत पर परिवार के साथ सो रही एक नौ वर्षीय बालिका सुधा कुमारी की गोली मारकर हत्या कर दी गई.

शेखपुरा. कोसुम्भा थाना क्षेत्र के बगहिया टोला में अपने घर के छत पर परिवार के साथ सो रही एक नौ वर्षीय बालिका सुधा कुमारी की गोली मारकर हत्या कर दी गई. मृतिका की पहचान गांव के रामाशीष यादव की पुत्री 9 वर्षीय सुधा कुमारी के रूप में की गयी है. घटना रविवार की रात करीब एक बजे के बाद अंजाम दी गई. बालिका के सिर के कनपटी में सटा कर गोली मारी गई है इससे सिर से गोली आरपार हो गई. बालिका की मौके पर ही मौत हो गई. घटना का कारण पड़ोसी के साथ पुरानी रंजिश बताई जा रही है. इस संबंध में पीड़ित परिवार के लोगों ने बताया की गर्मी के इस मौसम में सभी लोग परिवार के साथ छत पर सोए हुए थे. इसी दौरान करीब रात को एक बजे के बाद गोली चलने की जोरदार आवाज सुनकर जागे तो अपनी मां के साथ छत पर सोयी सुधा कुमारी बेसुध पड़ी थी. इस दौरान तीन लोगों को भागते देखा गया. इस संबंध में मृत बालिका के चाचा दीपू कुमार ने बताया की उनकी भतीजी सुधा कुमारी के पिता रामाशीष यादव गांव के ही एक वृद्ध व्यक्ति आसो यादव की हत्या के मामले में जेल में बंद है. इधर एक महीना पहले रास्ते को लेकर उनसे विवाद चल रहा था. इसको लेकर पुलिस भी आयी थी. वहीं रविवार की रात सभी लोग परिवार के साथ छत पर सो रहे थे. इसी क्रम में घर से सटे पड़ोसी ने एक दूसरे से छत सटे होने से आसानी से दीवाल फांदकर छत पर चढ़ गए और गोलीमार कर हत्या की घटना को अंजाम दे दिया. मृत बालिका अपने मां के साथ सोई हुई थी. गोली की आवाज सुनकर जब लोगों ने जागे तो तीन लोगों को भागते हुए देखा गया. इसमें पड़ोसी कुंदन कुमार, उसके पिता सुनील यादव और शिवबालक यादव शामिल है. शिवबालक यादव के पिता आसो यादव की एक साल पहले हत्या हो गया था. इस मामले में रामाशीष यादव को अभियुक्त बनाया गया था जो फिलहाल जेल में है .पीड़ित परिवार का कहना है कि रामाशीष यादव का एक चार वर्षीय बेटा है और उसकी हत्या के नियत से ही अपराधियों ने इस घटना को अंजाम दिया है. लेकिन संयोग बस उनकी लड़की की हत्या हो गई. इस घटना को लेकर पूरे गांव में तनाव का माहौल व्याप्त हो गया है. फिलहाल पुलिस मामले में शामिल अपराधियों की धर पकड़ करने में जुटी हुई है. हत्या की वारदात को बदले की भावना से अंजाम देने की बात सामने आ रही है. पुलिस ने सबको जब कर उसे पोस्टमार्टम हेतु शेखपुरा सदर अस्पताल भेज दिया है.

एफएसएल की जांच से खुलेगा हत्या का राज

हत्या की घटना को जिस प्रकार एक साल पहले हुए बुजुर्ग की हत्या का प्रतिशोधपूर्ण घटना बताया गया है उसमे सत्यता की जांच अब एफएसएल जांच पर टिक गयी है. इस घटना में गम्भीरता दिखाते हुए एसपी बलिराम कुमार चौधरी ने त्वरित निर्णय कार्रवाई का फैसला लिया है.रविवार की मध्य रात्रि हुई घटना की जांच सोमवार एफएसएल टीम के द्वारा किया गया. इस बाबत कुसुम्भा थानाध्यक्ष अमरेश सिंह बताया की हत्या की घटना को कई बिन्दुओ से जांच की जा रही है. इस मामले में घटना स्थल से एफएसएल की टीम के द्वारा कई तरह के निशान,घटना में इस्तेमाल किये गये हथियार की पहचान, साथ ही कितनी दूरी से गोली मारी गयी है, इन तमाम तरह के उठ रहे सवालों के जबाव टीम जुटाने में लग गयी है. ह्त्या के बदले हुई हत्या के इस घटना में पुलिस अब असली हत्यारों तक पहुंचने के लिए अत्याधुनिक अनुसंधान की कार्रवाई में जुट गयी है.

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें