1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. bihar politics cm nitish kumar reaction on bihar congress rift said i have no any information bihar news upl

Bihar Politics: बिहार कांग्रेस में टूट की चर्चा से सियासत गरम, CM नीतीश बोले- मुझे कोई जानकारी नहीं

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार बुधवार को  अचानक राजधानी वाटिका पहुंच गये. लोगों की भीड़ के बीच पूरे पार्क का मुआयना किया और बच्चों के साथ सेल्फी भी खिंचवायी.
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार बुधवार को अचानक राजधानी वाटिका पहुंच गये. लोगों की भीड़ के बीच पूरे पार्क का मुआयना किया और बच्चों के साथ सेल्फी भी खिंचवायी.
Prabhat khabar

Bihar Politics: मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ( CM Nitish Kumar) ने विधि-व्यवस्था (Bihar Law and Order) पर समीक्षा करने के बाद सरदार पटेल परिसर में पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि कांग्रेस का कोई विधायक उनके संपर्क में नहीं हैं. किसी ने उनसे कोई संपर्क नहीं किया है. कांग्रेस विधायकों के टूट को लेकर पूछे गये सवाल के जवाब में कहा कि हम अपने काम में लगे रहते हैं, अन्य किसी बात पर कोई ध्यान नहीं देते हैं.

मुख्यमंत्री ने कांग्रेस में चल रही उठा-पटक पर कहा कि यह सब सभी पार्टी में अंदर ही अंदर चलता रहता है. हर पार्टी के अंदर कोई किसी न किसी मुद्दे पर कुछ भी बोलता रहता है. इन सब बातों पर उन्होंने कभी कोई ध्यान नहीं दिया. उन्हें सिर्फ अपने काम से मतलब रहता है.

सीएम ने सोनिया गांधी को भारत रत्न देने की मांग पर कहा कि आज कांग्रेसी इसकी मांग कर रहे हैं, तो पहले ही क्यों नहीं दिलवा दिया. जब वे सत्ता में थे, तभी दिलवा देना चाहिए था.

हम चैन से बैठने वाले नहीं,  फिर शुरू करेंगे जनता का दरबार

मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना फेज के बाद फिर से जनता का दरबार कार्यक्रम शुरू करेंगे. हम चैन से बैठने वाले नहीं है. दफ्तरों में आकर अब कार्यों का मुआयना करेंगे, ताकि कोई दफ्तर में इत्मिनान से नहीं बैठा रहे. उन्होंने कहा कि 2015 के बाद जनता का दरबार में मुख्यमंत्री कार्यक्रम को बंद कर दिया गया था, क्योंकि लोक शिकायत निवारण कानून लाया गया था.

परंतु इधर महसूस हुआ कि लोगों को कष्ट हुआ है. सात लाख से ज्यादा लोगों ने लोक शिकायत निवारण कानून का फायदा उठाया है. उन्होंने कहा कि हम अपने जीवन में ऐसे ही संतुष्ट नहीं होते हैं. बल्कि उसके लिए हम रोज काम करते हैं. अगर संतोष हो जाये, तो फिर काम क्यों करेंगे. शुरू से ही हम प्रतिदिन लगातार काम कर रहे हैं

Posted by: Utpal kant

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें