1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. bihar electric bus electric bus hit boundry wall in bihar vidhan sabha just after cm nitish kumar inaugurated today bsrtc patna news in hindi upl

Bihar Electric Bus: उद्घाटन के दिन ही इलेक्ट्रिक बस दुर्घटनाग्रस्त, बिहार विधानसभा में दीवार से टकराई, टला बड़ा हादसा

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
इलेक्ट्रिक बस विधानसभा कैंपस में कबीर वाटिका की बाउंड्री में टक्कर मार दी.
इलेक्ट्रिक बस विधानसभा कैंपस में कबीर वाटिका की बाउंड्री में टक्कर मार दी.
Twitter

Bihar Electric Bus: बिहार में आज यानी 2 मार्च से इलेक्ट्रिक बसों सहित कई अन्य हाईटेक बसों ( Bus Service in Bihar ) का परिचालन शुरू हो गया. इसका उद्घाटन संवाद भवन से मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) ने किया. इलेक्ट्रिक बस (Electic Bus) से सीएम नीतीश बिहार विधानसभा पहुंचे. इसी दौरान विधानसभा परिसर में बस का संतुलन बिगड़ा और देखते ही देखते इलेक्ट्रिक बस विधानसभा कैंपस में कबीर वाटिका की बाउंड्री (Electic Bus Accident) में टक्कर मार दी.

टक्कर की वजह से दीवार में दरार आ गयी. वहीं, बस में भी खरोंच आयी है. संयोग रहा कि बस से मुख्यमंत्री सहित कई अन्य मंत्री पहले ही उतर चुके थे. विधानसभा से लौटने के क्रम में ये हादसा हुआ. इस हादसे के बाद विपक्ष के नेताओं ने परिवहन विभाग की तैयारियों और बस चालक की योग्‍यता पर भी सवाल खड़े कर दिए.

कांग्रेस विधान मंडल दल के नेता अजीत शर्मा और एमएलसी प्रेम चंद मिश्रा ने कहा कि आज उद्घाटन होने के बाद पहले ही दिन बस दुर्घटनाग्रस्‍त हो गई. उन्‍होंने सवाल उठाया कि परिवहन विभाग ने कैसे चालकों को नियुक्त किया है. कटाक्ष करते हुए कहा कि पहले दिन ही इस तरह की घटना ने सरकार की कलई खोल कर रख दी है कि परिवहन विभाग में किस तरह से काम होता है. हालांकि उन्होंने इस बस में सफर करने वाले लोगों की कुशल यात्रा की कामना की.

प्रेमचंद मिश्रा ने कहा कि जल्दबाजी में इस वक्त सीएम नीतीश कुमार ने उद्घाटन किया है. सरकार को खुले में इस बस का उद्घाटन करना चाहिए था. विधान सभा में इस बस को क्यों लाया गया. बस को यहां लाने की जरूरत ही क्यों पड़ी. गौरतलब है कि नीतीश कुमार ने मंगलवार को सूबे में इलेकट्रिक बस समेत अन्य 82 बसों के परिचालन सेवा का उद्घाटन किया है. इस दौरान डिप्टी सीएम तरीकिशोर प्रसाद, रेणु देवी, परिवहन मंत्री शीला कुमारी, अशोक चौधरी समेत अन्य नेता और अधिकारी मौजूद थे.

इन बसों में 70 डीलक्स, सेमी डीलक्स और 12 इलेक्ट्रिक बस शामिल हैं. इन बसों का परिचालन पटना के अलावा मुजफ्फरपुर और राजगीर में होगा. इन बसों के जरिए बिहार के सभी 38 जिलों से पटना की कनेक्टिविटी हो जाएगी. सीएम नीतीश कुमार के मुताबिक उन्होंने पर्यावरण संरक्षण का संदेश देने के उद्देश्य से यह कदम उठाया है.

मीडिया से बात करते हुए उन्होंने कहा कि ये परिवहन विभाग की अच्छी पहल है. हालांकि किराए के मामले पर मुख्यमंत्री ने कहा कि इसका निर्धारण परिवहन विभाग करेगा. बता दें कि देश में फिलहाल इलेक्ट्रिक बसों का परिचालन केवल दिल्ली और केरल में हो रहा है. ऐसे में अब बिहार तीसरा राज्य हो गया है, जहां पर इलेक्ट्रीक बसों का परिचालन हो रहा है.एसी और लग्जूरियस होने के कारण इनका किराया बीएसआरटीसी की सामान्य बसों की तुलना में अधिक होगा.

Posted By: Utpal Kant

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें