1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. bihar corona update pappu yadav demand to remdesivir injection ban amid coronavirus in bihar upl

पप्पू यादव ने सरकार से की रेमेडिसिवर को बैन करने की मांग, कहा- कोरोना मरीजों को लूटा जा रहा है

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
जाप के राष्ट्रीय अध्यक्ष पप्पू यादव
जाप के राष्ट्रीय अध्यक्ष पप्पू यादव
File

Bihar Corona Update,Remdesivir Injection , Pappu Yadav News: बिहार में कोरोना संक्रमण तेजी से बढ़ने के साथ ही गंभीर कोरोना मरीजों की संख्या भी बढ़ गयी है. वर्तमान में कोरोना संक्रमितों की संख्या 50 हजार से ज्यादा हो गयी है. कोरोना वायरस से गंभीर रूप से संक्रमितों के लिए लाइव सेविंग ड्रग्स के रूप में पूरी दुनिया में रेमेडिसिवर इंजेक्शन का उपयोग किया जा रहा है. बावजूद इसके जाप के राष्ट्रीय अध्यक्ष पप्पू यादव ने रेमेडिसिवर को बैन करने की मांग की है.

उन्होंने मंगलवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा है कि एम्स के निदेशक कह चुके हैं कि रेमडेसिविर दवा कोरोना का इलाज नहीं है, फिर इस पर बैन क्यों नहीं लग रहा है.उन्होंने कहा कि गलत जानकारी के कारण लोग 20-30 हजार रुपये देकर दवा को खरीद रहे हैं.इस दवा पर रोक लगनी चाहिए.

यादव ने कहा कि पीएमसीएच व एनएमसीएच में लैब टेक्नीशियन और डाटा आॅपरेटर्स की कमी है, जो कर्मी पहले कार्यरत थे उनमें से अधिकतर कोरोना संक्रमित हो चुके हैं. सरकार कह रही है कि एनएमसीएच को 500 बेडों वाला कोविड अस्पताल बनाया गया है, लेकिन स्थिति बहुत गंभीर है . कहा कि कोरोना संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए ज्यादा- से- ज्यादा टेस्ट किये जाने चाहिए और आॅक्सीजन की पर्याप्त व्यवस्था की जानी चाहिए.

पप्पू यादव ने कहा कि बिहार में इतनी खराब स्थिति है कि कल्पना नहीं की जा सकती है. कोरोना वार्ड में मरीजों को खाना खिलाने वाला कोई नहीं है. वार्ड के शौचालयों की सफाई नहीं हो रही है. बीमार व्यक्ति अगर वहां जायेगा तो और बीमार हो जायेंगे.

उन्होंने कहा कि एंबुलेंस वाले मरीज को एक अस्पताल से दूसरे अस्पताल ले जाने के लिए 12 हजार रुपये ले रहे हैं. कई डाक्टर सेप्सीवैक व अन्य मंहगी दवाएं लिख रहे हैं. जबकि इससे कोरोना वायरस से बचा नहीं जा सकता. मरीजों को लूटा जा रहा है. राज्य सरकार बेबस नजर आ रही है. अधिकारी कह रहे हैं कि वे मदद नहीं कर सकते.

Remdesivir: अभी बिहार में जारी रहेगी रेमडेसिविर की किल्लत

पटना समेत पूरे बिहार में रेमडेसिविर की जबरदस्त किल्लत है. सरकार के लाख दावों के बाद भी इसको लेकर अभी जो परिस्थिति है, उसके मद्देनजर इस इंजेक्शन को यहां के बाजार में सुचारु रूप से उपलब्ध होने में 10 दिनों से ज्यादा समय लगेगा.

हालांकि, स्वास्थ्य विभाग ने ने सोमवार को इसके 50 हजार वायल जल्द उपलब्ध होने की बात प्रेस कॉन्फ्रेंस कही थी. लेकिन इसकी मांग के मुताबिक यह संख्या बेहद कम है, क्योंकि एक मरीज को इसके छह इंजेक्शन पड़ते हैं.

Posted By: Utpal Kant

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें