25.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

Bhagalpur News : काली ठाकुर लेन में चार साल से बंद हैं प्याऊ, पांच हजार की आबादी में हाहाकार

भागलपुर हीट वेब की चपेट में हैं और यहां के लोगों को पेयजल संकट का सामना करना पड़ रहा है. वार्ड 21 अंतर्गत दीपनगर काली ठाकुर लेन में चार साल से प्याऊ बंद है.

भागलपुर हीट वेब की चपेट में हैं और यहां के लोगों को पेयजल संकट का सामना करना पड़ रहा है. वार्ड 21 अंतर्गत दीपनगर काली ठाकुर लेन में चार साल से प्याऊ बंद है. ऐसे में यहां पांच हजार की आबादी को चिलचिलाती धूप में पानी के लिए भटकना पड़ रहा है. भारत की कम्युनिस्ट पार्टी-मार्क्सवादी जिला कमेटी की ओर से नगर आयुक्त से मिलकर समस्या समाधान की मांग की गयी. जिला कमेटी सदस्य मनोज कुमार गुप्ता ने ज्ञापन में बताया कि यहां कोई वैकल्पिक व्यवस्था नहीं है. ऐसे में लोगों को चार साल से पानी लाने के लिए आधा किलोमीटर दूर जाना पड़ रहा है. चार साल पहले मोटर जल जाने के कारण अब तक कोई समाधान नहीं हुआ. रंजीत कुमार ने बताया कि दो चापाकल भी लगाया गया था, लेकिन इससे पानी आना बंद हो गया. इसे सुधारने की बजाय पूर्व ठेकेदार ने सारा सामान खोल लिया. इसके अलावा 12 शीटर शौचालय भी पानी के अभाव में उपयोगहीन हो गया है. लोगों को खुले में शौच जाना पड़ रहा है. गंगा प्रदूषित हो रही है.

कजरैली बाजार में पानी के लिए हाहाकार

नाथनगर प्रखंड क्षेत्र के कजरैली बाजार पर इस गर्मी में पानी के लिए हाहाकार मचा है. बाजार क्षेत्र में करीब 200 घर हैं. इसके अलावा बाजार के 500 से अधिक दुकानदार हैं जो प्याऊ पर ही निर्भर है. लोगों ने बताया कि यूको बैंक के सामने एक सरकारी चापानल है जो खराब है. विभाग उसे ठीक नहीं करा रहा है. वहीं दोनों प्याऊ से समय पर पानी नहीं मिलता है. लोग डब्बा, बाल्टी लेकर पानी की तलाश में भटकते हैं. नल के पास पानी लेने के लिए अक्सर मारामारी चलती है.

प्रतिबंधित पानी का पैकेट पकड़ाया

भागलपुर रेलवे स्टेशन परिसर में लाया जा रहा प्रतिबंधित मिनरल वाटर के कई पैकेटों को जांच के बाद कॉर्मर्शियल टीम ने पकड़ा. सीएमआर फूल कुमार ने यह कार्रवाई की. रेलवे स्टेशन पर रेल नीर उत्पाद का पानी का बोतल बेचने की अनुमति है. जबकि अन्य ब्रांड के पानी के बोतल धड़ल्ले से बेचे जा रहे हैं. इस कार्रवाई में कोई व्यक्ति पकड़ में नहीं आया.

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें