1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. bhagalpur
  5. bhagalpur 3 people including husband wife died due to lightning middle aged died due to wall collapse in rain ksl

Bhagalpur: वज्रपात से पति-पत्नी समेत तीन लोगों की मौत, बारिश में दीवार गिरने से अधेड़ की गयी जान

सोमवार की रात आये तेज आंधी और बारिश के साथ-साथ वज्रपात से चार लोगों की मौत की सूचना है. इनमें मधेपुरा के पति-पत्नी की मौत सोये अवस्था में हो गयी है.

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
Bhagalpur: सांकेतिक तस्वीर
Bhagalpur: सांकेतिक तस्वीर
FILE PIC

Bhagalpur: सोमवार की रात आये तेज आंधी और बारिश के साथ-साथ वज्रपात से चार लोगों की मौत की सूचना है. मधेपुरा में पति-पत्नी और सहरसा में वृद्ध की मौत वज्रपात से हो गयी. वहीं, बांका जिले में आंधी और बारिश के कारण दीवार गिरने से अधेड़ की मौत हो गयी.

मधेपुरा में दंपती की वज्रपात से मौत

मधेपुरा में सोमवार कि रात आये आंधी-तूफान से जहां भारी तबाही मची है, वहीं वज्रपात से पति-पत्नी कि मौत हो गयी. घटना ग्वालपाड़ा प्रखंड की सरोनी पंचायत की है. सोमवार की रात सरोनी निवासी मो नजीर एवं उसकी पत्नी मेहरून खाना खा कर घर में सोये थे कि अचानक आंधी-तूफान और गरज के साथ वज्रपात से दोनों की मौत हो गयी.

सहरसा में वृद्ध की वज्रपात से मौत

वज्रपात से मृतक के पुत्र की जान बच गयी. वह दूसरे घर में सोया था. उसने जब आकर देखा, तो दोनों अम्मी-अब्बू का इंतकाल हो चुका था. परिजनों ने बताया कि घटना कि जानकारी अंचलाधिकारी को दी गयी है. वहीं, सहरसा के सौरबाजार प्रखंड की सहुरिया पश्चिमी पंचायत के बखरी गांव के वार्ड नंबर 13 निवासी 62 वर्षीय शोभाकांत यादव की मौत वज्रपात से हो गयी है.

बांका में बारिश के कारण दीवार गिरने से अधेड़ मजदूर की मौत

बांका जिले के रजौन थाना क्षेत्र की धौनी-बामदेव पंचायत अंतर्गत मडनी गांव में सोमवार की देर रात तेज आंधी और बारिश के कारण दीवार गिरने से 55 वर्षीय अधेड़ मजदूर विलास शर्मा की मौत हो गयी. घटना के संबंध में बताया जा रहा है कि वह रात में खाना खाकर घर में सोया था. इसी बीच आयी तेज आंधी और बारिश के कारण मिट्टी की दीवार धराशायी हो गयी.

दीवार के धराशायी होन से नीचे दब गया था विलास शर्मा

घर की कच्ची दीवार के धराशायी होने से विलास शर्मा नीचे दब गया. घटना के बाद शोर सुनकर घटनास्थल पर पहुंचे ग्रामीणों और परिजनों की मदद से मिट्टी का मलबा हटाकर मजदूर को निकाला गया, लेकिन तब तक उसकी मौत हो चुकी थी. घटना के बाद परिजनों सहित गांव में मातमी सन्नाटा पसरा है.

घरवालों का रो-रो कर हुआ बुरा हाल

घटना की जानकारी मिलने पर रजौन थाने के एसआई गणेश कुमार सिंह दल-बल के साथ घटनास्थल पर पहुंचे और शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए बांका भेज दिया. घरवालों में पत्नी सुशीला देवी, पुत्र दिलीप शर्मा, राजू शर्मा और राजीव शर्मा सहित अन्य परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल है.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें