25.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

विकसित देश की श्रेणी में लाने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जरूरत : डॉ भागवत

केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री डॉ भागवत किशनराव कराड ने प्रेसवार्ता को किया संबोधित

आरा. भारत देश को सही तरीके में विकसित देश की श्रेणी में लाने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जरूरत है. आज एनडीए के माध्यम का प्रधानमंत्री का चेहरा नरेंद्र मोदी है. जबकि विपक्ष के तरफ से प्रधानमंत्री का कोई चेहरा नहीं है. प्रधानमंत्री के नेतृत्व में दस सालो में देश में हर क्षेत्रों में विकास हुआ है. कई असंभव कार्य भी हुए है. यह बातें एक होटल में आयोजित प्रेसवार्ता को संबोधित करते हुए केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री डॉ भागवत किशनराव कराड ने कहीं. उन्होंने कहा कि राम मंदिर बना और धारा 370 भी हटा. आज कश्मीर में शांति है और पर्यटन भी बढ़ा है. कश्मीर में पत्थरबाजी समाप्त हो गयी है. महिलाओं के लिए नारी शक्ति वंदनी बिल भी पास हो गया है. ऐसे कई असंभव कार्य सिर्फ और सिर्फ मौजूदा सरकार के नेतृत्व में हुआ है. कहा कि मुस्लिम महिलाओं के लिए तीन तलाक कानून लाकर उन्हें न्याय दिलाया गया है. उन्होंने कहा कि आज विश्व में भारत का सम्मान बढ़ा है. सरकार हर क्षेत्र में गरीबों की आमदनी बढ़ाने पर कार्य कर रही है. प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में आनेवाले कुछ समय में भारत विश्व की तीसरी अर्थव्यवस्था वाला देश बनेगा. कहा कि धर्म के आधार पर आरक्षण सही नहीं है. सरकार भारतीय की सुरक्षा,संरक्षण, समृद्धि,सम्मान और स्वावलंबी बनाने पर कार्य कर रही है. मौके भाजपा शिक्षक प्रकोष्ठ के प्रदेश संयोजक सह शिक्षाविद डॉ कन्हैया सिंह ने कहा कि कहा कि इंडिया गठबंधन पूरी तरह हताश और निराश है. इस बार देश में 400 सौ से अधिक और बिहार में 40 सीटों पर एनडीए जीत दर्ज कर सरकार बनाने जा रही है. आरा के सांसद प्रत्याशी केंद्रीय मंत्री आरके सिंह भी इस बार भारी मतों से जीत रहे हैं. आरके सिंह ने भोजपुर में चौतरफा विकास किया है. मौके पर पूर्व एमएलसी डॉ रणवीर नंदन , कन्हैया सिंह थे.

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें