चचेरे भाई ने ही की थी छात्रा प्रीति की हत्या, पुलिस ने किया गिरफ्तार

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

फतुहा : स्थानीय थाना के सामने बांकीपुर गोरख मोहल्ले में पिछले तीन अगस्त को छात्रा प्रीति की हत्या कर दी गयी थी. इस हत्याकांड राज को पुलिस ने छठे दिन शुक्रवार को खुलासा कर दिया है. पुलिस ने इस मामले मे मृत प्रीति के चचेरे भाई शिव शंकर यादव को उसके पैतृक गांव नरैना से मोबाइल लोकेशन के आधार पर गिरफ्तार किया है.

उसने पुलिस की समक्ष अपनी गुनाह कबूल कर ली है. प्रीति मूलरूप से नरैना की रहने वाली थी.पुलिस की मानें तो घटनास्थल से मिले युवती के ही मोबाइल फोन में उसकी हत्या का राज छिपा था.
घटना के दिन प्रीति के मोबाइल पर दोपहर बारह बजकर एक मिनट पर एक कॉल आया था. इस नंबर से प्रीति ने एक मिनट तक लगभग बात भी की थी. इसके बाद इसी नंबर से उसके मोबाइल पर बारह बज कर तीन मिनट पर मिस्ड कॉल आया था. फिर इसके बाद इसी नंबर से कई कॉल आये, लेकिन प्रीति कॉल को रिजेक्ट कर रही थी.
यही मोबाइल नंबर पुलिस को जांच के क्रम काम आया. पुलिस ने जब इस मोबाइल नंबर को ट्रेस किया तो पता चला कि यह नंबर हरदासबीघा गांव की एक महिला है. इस नंबर का मोबाइल फोन उस महिला के भाई शिव कुमार के द्वारा प्रयोग किया जा रहा था. पुलिस ने शिव कुमार से पूछताछ की.
पता चला कि नरैना गांव का ही शिव शंकर यादव जो प्रीति का चचेरा भाई है तीन अगस्त को एक घंटे के लिए मोबाइल मांग कर ले गया था. इसके बाद पुलिस शिव शंकर यादव तक जा पहुंची. पुलिस के अनुसार शिव शंकर यादव फोन नहीं उठाने पर प्रीति के फतुहा के बांकीपुर गोरख स्थित घर पहुंच गया.
वह अपनी ही चचेरी बहन से संबंध बनाना चाहता था. इसके लिए वह हमेशा प्रीति पर दबाव भी बनाया करता था. शनिवार को अकेला जान उसके घर पहुंच कर उस पर संबंध बनाने का दबाव बनाने लगा. जब प्रीति ने विरोध किया, तो घर मेें रखी कैंची से उसके गर्दन पर वार कर हत्या कर दी थी. हत्या के बाद उसने साक्ष्यों से छेड़छाड़ भी की थी.
Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें