25.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Trending Tags:

Advertisement

Deoghar Double Murder Case में हुआ बड़ा खुलसा, आरोपी ने खोले सारे राज

19 फरवरी की रात घटनास्थल की करायी गयी वीडियोग्राफी को एसपी अजीत पीटर डुंगडुंग ने खंगाला. उस आधार पर एसपी ने एसडीपीओ, नगर थाना प्रभारी व कांड के अनुसंधानकर्ता को जांच के लिए कुछ जरूरी निर्देश दिये.

देवघर नगर थाना पुलिस ने सिंघवा-चंदाजोरी मुहल्ला निवासी बुजुर्ग दंपति की हत्या मामले के आरोपी अमन महथा उर्फ फुचका महथा को बुधवार को न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया. आरोपी अमन भी सिंघवा मोहल्ले का ही रहने वाला है. घटना के बाबत कालीराखा निवासी मृतक के दामाद सुमन कुमार वर्णवाल ने देवघर नगर थाने में शिकायत देकर आरोपी के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कराया है. शिकायत में कहा है कि 19 फरवरी की देर रात को अप्रिय घटना की सूचना पर ससुराल पहुंचे तो देखा कि वहां लोगों की भीड़ लगी थी. पुलिस के पहुंचने पर घर के अंदर प्रवेश किया तो ससुर अनुज कुमार वर्णवाल व सास बासमती देवी का क्षत-विक्षत शव पड़ा हुआ था. घटना के दौरान सास के गले से सोने का मंगलसूत्र, कानबाली व अन्य सामान गायब थे. कमरे में बने बॉक्स में छिपे अमन महथा उर्फ फुचका को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया. इधर, आरोपी को थाने लाकर पुलिस पदाधिकिरियों द्वार सख्ती से पूछताछ में आरोपी ने दोनों की हत्या की बात स्वीकार कर ली है. उसने घटना में अन्य किसी की संलिप्तता नहीं होने की बात कही है. हालांकि, पुलिस सभी बिंदुओं पर बारीकी से जांच पड़ताल करने में जुटी है.

आरोपी की तबीयत बिगड़ी, अस्पताल में कराया गया इलाज

मृतक के घर छिपे हुए आरोपी को घर से निकलने के दौरान आक्रोशित भीड़ ने उसकी पिटाई कर दी थी. थाने में पूछताछ के दौरान अचानक उसकी तबियत बिगड़ गयी. आनन फानन में उसे सदर अस्पताल पहुंचाया गया, जहां कड़ी- सुरक्षा के बीच चिकित्सक ने उसका प्रारंभिक इलाज किया. देर रात ठीक लगने के बाद उसे थाने लाकर पूछताछ शुरू की गयी तो उसने बताया कि वह नशीला पदार्थ सूंघने के बाद नशे में धूत हो गया था. इसके बाद वह दुकान से कुछ सामान लाने दुकान गया था. परिचित होने के कारण दरवाजा खटखटाने पर दुकान खोला. तभी दंपती से कहासुनी के बाद दोनों से मारपीट हो गयी. इस दौरान उसी के घर में रखे दो रॉड से बारी-बारी से पीट-पीट कर मार दिया, जिसके कारण दोनों की मौत हो गयी. बुधवार को नगर पुलिस ने घटनास्थल से जब्त किये गये दो लोहे के रॉड को जब्ती सूची बना कर न्यायालय के समक्ष पेशी की गयी. मजिस्ट्रेट ने आरोपी को केंद्रीय कारा भेज दिया.

मामले की जांच करने घटना स्थल पहुंचे थे एसडीपीओ

बुधवार को एसडीपीओ ऋत्विक श्रीवास्तव जांच-पड़ताल करने के लिए घटनास्थल पर पहुंचे व लोगों से पूछताछ की, मगर कोई खास जानकारी नहीं मिल सकी. वहीं, पुलिस के पहुंचने से पहले तक घटनास्थल के बगल के एक घर वाले ने घटना की जानकारी परिवार वालों ने दी.

घटनास्थल की करायी गयी थी वीडियोग्राफी

19 फरवरी की रात घटनास्थल की करायी गयी वीडियोग्राफी को एसपी अजीत पीटर डुंगडुंग ने खंगाला. उस आधार पर एसपी ने एसडीपीओ, नगर थाना प्रभारी व कांड के अनुसंधानकर्ता को जांच के लिए कुछ जरूरी निर्देश दिये. फिलहाल पुलिस की टीम एसपी के दिये गये निर्देशों के आधार पर मामले की तफ्तीश में जुटी हुई है.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें