1. home Hindi News
  2. sports
  3. tokyo olympics 2020 pm modi interacts with olympic athletes know 15 players success story deepika kumari of jharkhand pb sindhu anurag thakur avd

Tokyo Olympics 2020 : 'टोक्यो में जय हो की तैयारी', PM मोदी ने खिलाड़ियों से जाना 'आम से खास' बनने की कहानी

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Tokyo Olympics 2020
Tokyo Olympics 2020
twitter

Tokyo Olympics 2020 : कोरोना महामारी की खौफ के बीच जापान में जय हो की तैयारी भारत ने कर ली है. 23 जुलाई से 8 अगस्त तक चलने वाले टोक्यो ओलंपिक में भारत अपना सबसे बड़ा दल उतार रहा है. ओलंपिक इतिहास में पहली बार 126 खिलाड़ी और कुल 228 सदस्य हिस्सा लेंगे. इस बीच टोक्यो आलंपिक में हिस्सा लेने जा रहे 15 बड़े खिलाड़ियों से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बात की और उनका उत्साह बढ़ाया. बातचीत के दौरान पीएम ने सभी खिलाड़ियों से उनके आम से खास बनने की कहानी जानी.

प्रधानमंधी ने इन खिलाड़ियों से की बात

तोक्यो ओलंपिक खेलने जा रहे भारतीय खिलाड़ियों पी वी सिंधु (बैडमिंटन) ,सानिया मिर्जा (टेनिस), एम सी मैरीकॉम (मुक्केबाजी) , सौरभ चौधरी और इलावेनिल वालरेविन (निशानेबाजी), दुती चंद (एथलेटिक्स), मनप्रीत सिंह (हॉकी), विनेश फोगाट (कुश्ती) , साजन प्रकाश (तैराकी) , दीपिका कुमारी और प्रवीण जाधव (तीरंदाजी), आशीष कुमार (मुक्केबाजी) , मनिका बत्रा और अचंता शरत कमल (टेबल टेनिस) से प्रधानमंत्री ने बात की.

रांची की दीपिका से पीएम ने सबसे पहले की बात

प्रधानमंत्री मोदी ने सबसे पहले झारखंड रांची की रहने वाली दुनिया की नंबर वन तीरंदाज दीपिका कुमारी के साथ बात की. पीएम ने दीपिका से कहा, आप बचपन में आम तोड़ने के लिए निशाना लगाया करती थीं. लेकिन अब आप आम से खास हो चुकी हैं.

हाल ही में पेरिस में विश्व कप में स्वर्ण पदक जीतने वाली दीपिका कुमारी से मोदी ने पूछा कि वह अपेक्षाओं के दबाव और अपने प्रदर्शन के बीच संतुलन कैसे बनाती है, इस पर दीपिका ने कहा कि वह पूरा फोकस प्रदर्शन पर रखती है.

खिलाड़ियों से बात करने के दौरान पीएम ने क्रिकेटर सचिन को किया याद

ओलंपिक में हिस्सा चले रहे खिलाड़ियों से बातचीत के दौरान पीएम मोदी ने क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर का जिक्र किया. ओलंपिक से ठीक पहले अपने पिता को खोने वाले मुक्केबाज आशीष कुमार को चैम्पियन क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर का उदाहरण देते हुए पीएम मोदी ने कहा , तेंदुलकर भी एक समय बहुत महत्वपूर्ण टूर्नामेंट खेल रहे थे जब उनके पिता का निधन हो गया. उन्होंने अपने खेल के से पिता को श्रृद्धांजलि दी. आपने भी वैसा ही उदाहरण प्रस्तुत किया है. एक खिलाड़ी के तौर पर आप विजेता हैं ही , साथ ही एक व्यक्ति के तौर पर भी आपने विषमताओं पर विजय प्राप्त की है.

विनेश फोगाट से पीएम ने पूछा आप अपेक्षाओं के बोझ से कैसे खुद को निकालती हैं बाहर

पीएम मोदी ने विनेश फोगाट से पूछा कि परिवार की ख्याति के कारण अपेक्षाओं का बोझ होगा, उससे कैसे निबटती हैं. इस पर विनेश ने कहा, उम्मीदें जरूरी है जो अच्छे प्रदर्शन के लिये प्रेरित करती हैं. उन्होंने कहा, अपेक्षाओं का दबाव नहीं है. अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करेंगे.

दिहाड़ी मजदूर का बेटा ले रहा ओलंपिक में हिस्सा, मोदी ने बढ़ाया उत्साह

टोक्यो ओलंपिक में इस बार एक दिहाड़ी मजदूर का बेटा भी हिस्सा ले रहा है. तीरंदाज प्रवीण कुमार से खास बातचीत में पीएम मोदी ने कहा, जमीनी स्तर पर प्रतिभाओं का चयन सही हो तो देश की प्रतिभा क्या नहीं कर सकती, यह हमारे खिलाड़ियों ने दिखाया है.

पीएम मोदी टोक्यो ओलंपिक जा रहे भारतीय खिलाड़ियों से कहा कि उन्हें अपेक्षाओं के बोझ तले दबना नहीं है बल्कि पूरा फोकस अपना शत प्रतिशत देने पर लगाना है और पूरे देश की शुभकामनायें उनके साथ हैं. पीएम मोदी की खिलाड़ियों के साथ बातचीत के दौरान खेल मंत्री अनुराग ठाकुर, खेल राज्य मंत्री निसिथ प्रमाणिक, पूर्व खेलमंत्री किरेन रीजीजू, आईओए अध्यक्ष नरिंदर बत्रा के अलावा खिलाड़ियों के माता पिता भी मौजूद थे.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें