1. home Hindi News
  2. sports
  3. tokyo olympics 2020 indian shot putter tajinder pal singh toor story know all about him rkt

डिप्रेशन से जंग लड़कर किसान के बेटे तेजिंदरपाल तूर ने कटाया ओलिंपिक का टिकट, देश को दिला सकते हैं मेडल

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
Tajinderpal Singh Toor
Tajinderpal Singh Toor
फोटो - सोशल मीडिया

Tokyo Olympics 2020: एशियाई खेलों के स्वर्ण पदक विजेता शॉट पुटर (गोला फेंक खिलाड़ी) तेजिंदरपाल सिंह तूर (Tajinderpal Singh Toor) से तोक्यो ओलिंपिक में भी पदक की उम्मीद है. तूर के नाम 21.49 मीटर का नया नेशनल रिकॉर्ड और एशियन रिकॉर्ड है, जिसके जरिये उन्होंने अपने ओलिंपिक डेब्यू को आसान किया. 21 जून को इंडियन ग्रांप्री में तूर ने 21.49 मीटर दूर गोला फेंक तोक्यो ओलिंपिक के लिए क्वालिफाइ किया (शॉटपुट के लिए ओलिंपिक क्वालीफिकेशन मार्क 21.10 मीटर निर्धारित किया गया था). पिछला राष्ट्रीय रिकॉर्ड भी तेजिंदरपाल सिंह तूर के नाम था, जहां उन्होंने 20.92 मीटर थ्रो का राष्ट्रीय रिकॉर्ड अपने नाम किया था. तूर एशियाई खेलों के स्वर्ण पदक विजेता, एशियाई चैंपियन और दो बार के राष्ट्रीय चैंपियन भी रह चुके हैं.

बचपन से ही खेल के प्रति था लगाव

तेजिंदरपाल सिंह का जन्म 13 नवंबर 1994 को पंजाब के खोसा पंडो गांव में एक किसान परिवार में हुआ था. बचपन से ही खेल के प्रति उनका लगाव था. इसमें पिता करम सिंह और चाचा गुरदेव सिंह से उन्हें साथ मिला. करम सिंह अपने गांव और आसपास के इलाकों में रस्साकशी खेल के लिए काफी लोकप्रिय थे. वहीं युवा तेजिंदरपाल अपने चाचा गुरदेव सिंह से काफी प्रभावित हुए, जो एक अंतरराष्ट्रीय शॉट पुट पदक विजेता थे.

तेजिंदरपाल सिंह तूर ने अपने शुरुआती वर्षों में चाचा गुरदेव सिंह की निगरानी में प्रशिक्षण लिया, जहां वह जल्द ही इस खेल में अपना लोहा मनवाने के लिए तैयार हो गये. इस युवा शॉट पुटर ने राज्य स्तर पर कई युवा प्रतियोगिताओं में हिस्सा लिया और खिताब भी जीते. अंतर-राज्यीय प्रतियोगिताओं में लगातार अच्छा प्रदर्शन किया. बता दें कि पिछले साल अक्टूबर में तूर का हाथ फ्रैक्चर हो गया. ट्रेनिंग के दौरान गोला फेंकते हुए वह फिसल गए. इसके बाद वह अवसाद में चले गए थे. उन्हें लगने लगा था कि शायद वह ओलिंपिक के लिए क्वालिफाई भी नहीं कर पाएंगे.

तेजिंदरपाल सिंह ने अब तक जीते हैं इतने खिताब 

  • 2016 में फेडरेशन कप शॉट पुट का खिताब

  • 2017 में पहला अंतरराष्ट्रीय खिताब जीता

  • 2018 में तीसरा फेडरेशन कप खिताब

  • 2018 में राष्ट्रीय और एशियाई खेलों का (20.75 मीटर) रिकॉर्ड बनाया

  • 2019 में एशियाई चैंपियनशिप का स्वर्ण जीता

  • तूर ने इंडियन ग्रांप्री-4 में 21.49 मीटर की थ्रो फेंककर ओलिंपिक टिकट हासिल करने के साथ राष्ट्रीय व एशियाई रिकॉर्ड सुधारा

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें