1. home Home
  2. sports
  3. pakistan arshad nadeem reaction on tokyo olympics gold medalist neeraj chopra video rkt

नीरज चोपड़ा के जेवलिन वाले बयान पर अब पाकिस्तानी खिलाड़ी का आया बड़ा रिएक्शन, कह दी बड़ी बात

नीरज चोपड़ा ने ट्वीट कर कहा था कि मेरी आप सभी से विनती है कि मेरे कमेंट्स को अपने गंदे एजेंडे को आगे बढ़ाने का माध्यम न बनायें. खेल हम सबको एकजुट होकर साथ रहना सिखाता है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
नीरज चोपड़ा
नीरज चोपड़ा
फोटो - ट्वीटर

Tokyo Olympics 2020 : तोक्यो ओलिंपिक में भारत को ट्रैक एंड फिल्ड में 100 साल के बाद गोल्ड जीतनेवाले नीरज चोपड़ा (Neeraj Chopra) लगातार सुर्खियों में बने हुए हैं. तोक्यो से लौटने के कुछ दिन बाद नीरज ने बताया कि फाइनल के पहले पाकिस्तान के जेवलिन थ्रोअर अरशद नदीम (Pakistan Arshad Nadeem) ने उनका जेवलिन ले लिया था. इस पर सोशल मीडिया पर काफी बवाल हुआ था. इस पूरे विवाद पर नीरज ने सफाई दी लोगों से और बिना वजह इस मामले को तूल ना देने को कहा है. तो वहीं अब पाकिस्तानी ओलंपियन ने भी आरोपों पर प्रतिक्रिया दी है.

पाकिस्तानी खिलाड़ी ने कही ये बात 

नदीम ने दावा किया कि सभी भाले अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति द्वारा प्रदान किए गए थे और उन्होंने रैक में एक के साथ अभ्यास करना शुरू कर दिया. नदीम ने Arysports.tv को दिए अपने इंटरव्यू में बताया कि मैं एक भाला के साथ अभ्यास कर रहा था और नीरज मेरे पास आया और कहा कि यह उसका भाला है इसलिए मैंने उसे दे दिया. पाकिस्तानी खिलाड़ी ने आगे कहा कि मुझे पता नहीं है कि भारत द्वारा प्रबंधन को भाला प्रदान किया गया था या नहीं. शायद यह उसका पसंदीदा था और वह इसके साथ फेंकना चाहता था, इसलिए वह मेरे पास आया और उस भाला के लिए कहा.

अरशद नदीम आगे कहते हैं, "यह कहना भी हास्यास्पद है कि मैंने नीरज चोपड़ा से मुझे वह भाला देने के लिए कहा जिससे उन्होंने स्वर्ण पदक जीता था. उस समय हर एथलीट की अपनी चिंता थी, तो यह कैसे मुमकिन है?" बता दें कि इस संबंध में ट्विटर पर वीडियो जारी करते हुए नीरज चोपड़ा ने कहा कि थ्रो फेंकने से पहले हर कोई अपना जेवलिन वहां रखता है. ऐसे में कोई भी प्लेयर वहां से जेवलिन उठाकर अपनी प्रैक्टिस कर सकता है. ये एक नियम है और इसमें कोई बुराई भी नहीं है. नीरज ने कहा कि अरशद प्रैक्टिस कर रहा था, फिर मैंने उनसे अपना जेवलिन मांगा. नीरज ने कहा कि मेरा सहारा लेकर लोग इसको मुद्दा बना रहे हैं, कृपया ऐसा ना करें. खेल सभी को मिलकर चलना सीखाता है, सभी खिलाड़ी आपस में प्यार से रहते हैं.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें