26.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

हरियाणा के मंत्री संदीप सिंह ने यौन उत्पीड़न के आरोप लगने के बाद छोड़ा खेल विभाग, जानें पूरा मामला

हरियाणा के मंत्री संदीप सिंह ने एक महिला कोच द्वारा यौन शोषण के आरोप लगाये जाने के बाद खेल विभाग छोड़ दिया है. उन्होंने मामले की स्वतंत्र जांच की मांग की है. उन्होंने कहा कि जांच प्रभावित न हो इस कारण नैतिक आधार पर अपना विभाग मुख्यमंत्री को सौंप रहा हूं. उन्होंने आरोपों को निराधार बताया है.

यौन उत्पीड़न का आरोप लगने के बाद हरियाणा के मंत्री संदीप सिंह ने रविवार को खेल विभाग छोड़ दिया और कहा कि उन्होंने नैतिक आधार पर यह कदम उठाया है. राज्य की एक महिला जूनियर एथलेटिक्स कोच की शिकायत पर चंडीगढ़ पुलिस द्वारा सिंह के खिलाफ मामला दर्ज किये जाने के एक दिन बाद यह घटनाक्रम हुआ. भारतीय हॉकी टीम के पूर्व कप्तान संदीप सिंह (36 वर्ष) पर बंधक बनाने का भी आरोप लगाया गया है.

मंत्री ने छवि खराब करने का लगाया आरोप

मंत्री द्वारा कोच के खिलाफ शिकायत दर्ज कराये जाने के बाद शनिवार को हरियाणा के पुलिस महानिदेशक ने एक समिति का गठन किया था. मंत्री ने शिकायत में दावा किया था कि कोच ने उनकी छवि खराब की है. सिंह ने कहा कि जब तक समिति अपनी रिपोर्ट नहीं दे देती, तब तक वह नैतिकता के आधार पर अपना खेल विभाग मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर को सौंप रहे हैं. मंत्री ने मामले की स्वतंत्र जांच की मांग करते हुए कोच द्वारा लगाये गये आरोपों को खारिज किया है.

शनिवार को दर्ज हुई शिकायत

मंत्री के विभाग छोड़ने से पहले रविवार को चंडीगढ़ पुलिस ने जानकारी दी एक महिला कोच की शिकायत पर खेल मंत्री के खिलाफ यौन उत्पीड़न और बंधक बनाने के आरोप में मामला दर्ज किया गया है. पुलिस ने कहा कि भारतीय हॉकी टीम के पूर्व कप्तान रह चुके भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेता के खिलाफ शनिवार को प्राथमिकी दर्ज की गयी. पुलिस के एक प्रवक्ता ने कहा कि हरियाणा की एक महिला कोच की शिकायत के आधार पर चंडीगढ़ के सेक्टर 26 थाने में दिनांक 31.12.2022 को भारतीय दंड संहिता की धारा 354, 354ए, 354बी, 342, 506 के तहत मंत्री के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गयी है. जांच जारी है.

महिला कोच ने लगाये ये आरोप

राज्य की एक जूनियर एथलेटिक्स कोच ने गुरुवार को मंत्री पर यौन उत्पीड़न के आरोप लगाए थे और एक दिन बाद पुलिस में शिकायत दर्ज करायी थी. महिला ने शुक्रवार को पत्रकारों से कहा था कि मैंने यहां एसएसपी (वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक) मैडम को शिकायत दी है. मुझे उम्मीद है कि न्याय मिलेगा और चंडीगढ़ पुलिस मेरी शिकायत पर जांच करेगी. उसने आरोप लगाया था कि संदीप सिंह ने पहले उसे एक जिम में देखा और फिर इंस्टाग्राम पर उससे संपर्क किया.

प्रमाणपत्र के बहाने किया यौन उत्पीड़न

कोच ने दावा किया कि कुरुक्षेत्र के पिहोवा के विधायक संदीप सिंह मिलने की जिद करते रहे. उन्होंने मुझे इंस्टाग्राम पर मैसेज किया और कहा कि मेरा राष्ट्रीय खेल प्रमाणपत्र लंबित है तथा इस संबंध में मिलना चाहते हैं. महिला ने कहा कि दुर्भाग्य से, फेडरेशन ने मेरा प्रमाणपत्र खो दिया है और मैं इस संबंध में अधिकारियों से संपर्क में हूं. महिला की शिकायत के अनुसार वह कुछ दस्तावेजों के साथ संदीप सिंह के घर गयी तो उन्होंने उससे छेड़छाड़ की. महिला ने कहा कि वह … मुझे अपने घर के एक कैबिन में ले गये… मेरे दस्तावेज एक मेज पर रख दिये और अपना हाथ मेरे पैर पर रख दिया. उन्होंने कहा कि जब उन्होंने मुझे पहली बार देखा तब से पसंद करने लगे… उन्होंने कहा तुम मुझे खुश रखो और मैं तुम्हें खुश रखूंगा. महिला ने आरोप लगाया कि मैंने उनका हाथ हटा दिया… उन्होंने मेरी टी-शर्ट भी फाड़ दी. मैं चीख- चीखकर मदद मांगने लगी. उनका पूरा स्टाफ वहां था, लेकिन किसी ने मेरी मदद नहीं की.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें