1. home Hindi News
  2. sports
  3. cricket
  4. virender sehwag was made multan ka sultan today trampling by pakistan history was created by triple century 29 march 2004 avd

वीरेंद्र सहवाग पाकिस्तान को रौंदकर आज ही बने थे 'मुल्तान का सुल्तान', ट्रिपल सेंचुरी लगाकर रचा था इतिहास

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
वीरेंद्र सहवाग पाकिस्तान को रौंदकर आज ही बने थे 'मुल्तान का सुल्तान'
वीरेंद्र सहवाग पाकिस्तान को रौंदकर आज ही बने थे 'मुल्तान का सुल्तान'
twitter
  • सहवाग ने 17 साल पहले 29 मार्च को जमाया था टेस्ट क्रिकेट में पहला ट्रिपल सेंचुरी

  • सहवाग ने पाकिस्तान के खिलाफ भारत की ओर से पहला ट्रिपल सेंचुरी टेस्ट मैच में जमाया था.

  • पाकिस्तान के मुल्तान में सहवाग ने रचा था इतिहास और बने थे मुल्तान के सुल्तान

टीम इंडिया के पूर्व तूफानी बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग ने एक ही के दिन यानी 29 मार्च को मुल्तान का सुल्तान बने थे. उन्होंने आज से 17 साल पहले टेस्ट क्रिकेट में ट्रिपल सेंचुरी जड़कर इतिहास रच डाला था.

29 मार्च 2004 को कोई भी भारतीय नहीं भूल सकता है. इसी दिन साल सहवाग ने टेस्ट क्रिकेट में तिहरा शतक लगाया था और मुल्तान के सुल्तान बने थे. सहवाग के लिए यह रिकॉर्ड इस लिये भी खाास था क्योंकि इनके सामने विरोधी टीम के रूप में पाकिस्तान था.

सहवाग टेस्ट क्रिकेट में ट्रिपल सेंचुरी बनाने वाले पहले भारतीय बल्लेबाज बने. वीरु ने उस मैच में पाकिस्तानी गेंदबाजों को जमकर धोया था. उस मैच में सहवाग के प्रकोप से कोई भी पाकिस्तानी गेंदबाज नहीं बच पाया था. उस मैच में पाकिस्तान के सबसे सफल गेंदबाज सकलैन मुश्ताक ने 200 से ज्यादा रन दिए थे. वीरेंद्र सहवाग ने उस मैच में टोटल 309 रन बनाए थे. वीरु को मोहम्मद शमी ने आउट किया था.

इस खास दिन को सभी देशवासी याद तो कर ही रहे हैं, इसके साथ-साथ वीरु ने भी ट्वीट कर अपनी उपलब्धी को याद किया है. उन्होंने ट्रिपल सेंचुरी लगाते हुए अपना छोटा वीडियो क्लीप पोस्ट किया और लिखा, 29 मार्च- मेरे लिए एक खास दिन है. मुझे इस दिन टेस्ट क्रिकेट में पहला तिहरा शतक लगाने वाले भारतीय बल्लेबाज बनने का सौभाग्य मिला और सोने पर सुहागा यह कि यह स्कोर पाकिस्तान के खिलाफ मुल्तान में बनाया गया था.

उसके बाद सहवाग ने 2008 में 28 मार्च को ही एक और ट्रिपल सेंचुरी टेस्ट में लगाया. सहवाग ने चेन्नई में 28 मार्च 2008 को अपना दूसरा तिहरा शतक बनाया था, उसके अगले दिन 29 मार्च को वो 319 रन बनाकर आउट हुए थे. ये भी अपने आप में बड़ा संयोग था.

मालूम हो वीरेंद्र सहवाग अलावा टेस्ट क्रिकेट में तिहरा शतक जमाने वालों में सर डॉन ब्रैडमैन दो बार तिहरे शतक लगाया था. इसके अलावा ब्रायन लारा और क्रिस गेल ने भी टेस्ट मैच में दो तिहरे शतक लगा चुके हैं.

गौरतलब है कि उस मैच में सहवाग ने 375 गेंदों का सामना किया था, जिसमें 6 छक्के और 39 चौकों की मदद से 309 रन की पारी खेली थी. उस मैच में सचिन तेंदुलकर ने भी 21 चौकों की मदद से 194 रनों की नाबाद पारी खेली थी. उस मैच को भारत ने एक पारी और 52 रनों से जीत लिया था.

posted by : arbind kumar mishra

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें