1. home Home
  2. sports
  3. cricket
  4. many senior england players can boycott ashes series objection to strict bio bubble aml

एशेज सीरीज का बहिष्कार कर सकते हैं इंग्लैंड के कई सीनियर खिलाड़ी, ये है मुख्य वजह

ईएसपीएन क्रिकइंफो के मुताबिक इंग्लैंड और वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) अभी भी इस सीरीज को लेकर अड़ा हुआ है. बोर्ड इस सीरीज को स्थगित नहीं करना चाहता.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
England Cricket Team
England Cricket Team
Twitter

इंग्लैंड के टॉप क्रिकेटर इस साल के अंत में होने वाले एशेज सीरीज का बहिष्कार कर सकते हैं. मीडिया रिपोर्ट में दावा किया जा रहा है कि सख्त बायो बबल प्रोटोकॉल के कारण ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ होने वाले इस सीरीज में दिग्गज अंग्रेजी खिलाड़ी नहीं खेलना चाहते हैं. इंडियन एक्सप्रेस की खबर के मुताबिक इंग्लैंड के खिलाड़ी चार महीने तक होटल के कमरों तक सीमित नहीं रहना चाहते.

ईएसपीएन क्रिकइंफो के मुताबिक इंग्लैंड और वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) अभी भी इस सीरीज को लेकर अड़ा हुआ है. बोर्ड इस सीरीज को स्थगित नहीं करना चाहता. इस बात से कई वरिष्ठ खिलाड़ी और सहयोगी स्टाफ नाराज हो गये हैं. ईसीबी में टीम और अधिकारियों के बीच बातचीत के बाद एशेज में इंग्लैंड की काफी कमजोर टीम के भेजने की संभावना बढ़ गयी है.

ईसीबी द्वारा दौरे को आंशिक या पूर्ण रूप से स्थगित करने से भी इनकार करने के कारण खिलाड़ी निराश हो गये हैं. परिणामस्वरूप, वे अपने विकल्पों पर विचार कर रहे हैं. उन विकल्पों में से एक को पूरी टीम के रूप में समझा जा सकता है. खिलाड़ी सामान्य रूप से, अपने लिए दो सप्ताह के संगरोध की संभावना के बारे में काफी आशावादी दिखाई देते हैं.

यह समझा जाता है कि संगरोध की प्रकृति ने खिलाड़ियों को निराश किया है. हालांकि उन्हें गोल्ड कोस्ट पर एक रिसॉर्ट होटल के उपयोग की अनुमति देने की बात की गयी है. अब यह समझा जा रहा है कि उन्हें प्रशिक्षण के लिए प्रत्येक दिन अपने होटल के कमरों से केवल दो या तीन घंटे की अनुमति दी जा सकती है.

इस बात की भी संभावना है कि राज्यों के बीच जाने में कठिनाइयों से बचने के लिए दस्ते को पूरे दौरे में किसी प्रकार के बायो बबल में रहने के लिए बाध्य किया जायेगा. इस बीच, परिवारों को अभी भी एक होटल के कमरे में 14 दिनों के लिए 'कठिन' संगरोध से गुजरना पड़ सकता है.

Posted By: Amlesh Nandan.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें