1. home Hindi News
  2. religion
  3. thought of jaya kishori do not consider smart work as a shortcut know what about jaya kishori success mantra her lifestyle bhajan pravachan katha instagram of motivational speaker in hindi smt

Thought Of Jaya Kishori: स्मार्ट वर्क को शॉर्टकट न समझें, जानें जया किशोरी के क्या है सफलता के मंत्र

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Jaya Kishori Thought In Hindi, Success Mantra, Pravachan, Bhajan, Lifestyle, Age
Jaya Kishori Thought In Hindi, Success Mantra, Pravachan, Bhajan, Lifestyle, Age
Prabhat Khabar Graphics

Jaya Kishori Thought In Hindi, Success Mantra, Pravachan, Bhajan, Lifestyle, Age: जया किशोरी श्रीमद् भागवत कथा (Jaya Kishori Bhagwat Katha) और नानी बाई का मायरा जैसे कथाओं के पाठ (Jaya Kishori Motivational Speech) से विश्व प्राख्यात बन चुकी हैं. प्रमुख कथावाचिका के रूप में उभरीं जया किशोरी (Jaya Kishori Age) 9 साल के उम्र से ही लिंगाष्टकम, रामाष्टम, शिव तांडव जैसे कई कथा, भजन व गीत गाकर अपने भक्तों की चहेती बन चुकी है. यही नहीं यू-ट्यूब और सोशल मीडिया जैसे प्लेटफॉर्म में वे काफी शेयर भी की जाती हैं. उनके सफलता को लेकर कई मंत्र है जिसे जानकर आप भी अपने करियर ऊंचाईयों पर ले जा सकते हैं. आइए जानते हैं...

जया किशोरी के सफलता के मंत्र

आमतौर पर धार्मिक गाने, कथा आदि को बुजूर्ग ही सुनना पसंद करते हैं. लेकिन, आपको बता दें कि जया किशोरी के कई फॉलोअर्स है. इनमें युवा भी भारी मात्रा में है. जो उनके मोटिवेशनल स्पीच को सुनते हैं और शेयर भी करते हैं.

जया के इंस्टाग्राम का आईडी है iamjayakishori, जिसे आप भी फॉलो कर सकते हैं. हाल ही में जया ने अपने आधिकारिक अकाउंट से एक विचार साझा किया था. यह विचार जीवन में सफलता पाने के गुर के बारे में बताता है. दरअसल, उन्होंने अपने इंस्टाग्राम पर एक कोट्स में लिखा था कि लोगों को स्मार्ट वर्क और शार्टकट को लेकर किसी भम्र में नहीं रहना चाहिए.

उनका मानना है कि जो समय आपने अपने लाइफ में बिता दिया है उसे सोच कर समय बर्बाद करने से कोई फायदा नहीं. बल्कि आगे का रास्ता आपको कैसे तय करना है, इसका प्लान करना चाहिए. वे कहती हैं कि आज को पूरी तरह से जीएं और जिस कार्य को कर रहे हैं उसमें पूरा ध्यान दें.

इसके अलावा जया किशोरी सफलता को लेकर यह भी कहती हैं कि कार्य करने में जितनी जरूरी है उतना ही अपना मेहनत डालें. शार्टकट के पीछे भागने से अच्छा है कि समझकर और सूझ-बूझ से ही अपना मंजिल तय करें और कार्यों को संपन्न करें.

उनका यह भी मानना है कि यदि आपमें कोई गुण न भी हो लेकिन, परिश्रम आप किसी विशेष क्षेत्र में दिल लगाकर कर रहे हैं तो आपको सफलता पाने से कोई रोक नहीं सकता है. इसके लिए आपको यह पहचानना होगा कि आपने जो राह चुना है वह सही है या नहीं.

Posted By: Sumit Kumar Verma

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें