1. home Home
  2. religion
  3. shani sade sati kin rashiyo par hai second phase going to start on kumbh rashifal zodiac sign after makar horoscope know how dangerous shani sade sati dusra charan upay totke remedies smt

Shani Sade Sati: मकर के बाद इस राशि में शुरू होगा शनि के साढ़ेसाती का दूसरा चरण, जानें किन्हें रहना हो सावधान, क्या है उपाय

24 जून 2020 से शनि मकर राशि में गोचर किए हुए हैं. जबकि, 29 अप्रैल, 2022 को वे कुंभ राशि में विराजमान हो जाएंगे. शनि को दूसरी राशि में प्रवेश करने में करीब ढाई साल का समय लगता. इस ढाई साल को एक चरण कहा जाता है और शनि ग्रह को सबसे धीमी गति से राशि बदलने वाला ग्रह भी माना गया है. उनका राशीचक्र पूरे 30 साल में समाप्त होता है. कुंभ राशि को जातक को अब संभल कर रहने की जरूरत है...

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Shani Sade Sati Dusra Charan, Kin Rashiyo Par Hai, Upay, Totke, Remedies
Shani Sade Sati Dusra Charan, Kin Rashiyo Par Hai, Upay, Totke, Remedies
Prabhat Khabar Graphics

Shani Sade Sati Dusra Charan, Kin Rashiyo Par Hai, Upay, Totke, Remedies: 24 जून 2020 से शनि मकर राशि में गोचर किए हुए हैं. जबकि, 29 अप्रैल, 2022 को वे कुंभ राशि में विराजमान हो जाएंगे. शनि को दूसरी राशि में प्रवेश करने में करीब ढाई साल का समय लगता. इस ढाई साल को एक चरण कहा जाता है और शनि ग्रह को सबसे धीमी गति से राशि बदलने वाला ग्रह भी माना गया है. उनका राशीचक्र पूरे 30 साल में समाप्त होता है. कुंभ राशि को जातक को अब संभल कर रहने की जरूरत है...

दरअसल, 29 अप्रैल, 2022 तक शनि की साढेसाती का दूसरा चरण कुंभ राशि में आरंभ होने वाला है. जिससे बुरे प्रभाव इस राशि वाले को ढाई साल तक झेलना पड़ सकता हैं. आपको बता दें कि शनिदेव इसी राशि के स्वामी भी है. जब वे राशि परिवर्तन करते हैं तो कुछ राशि पर शनि की साढ़ेसाती तो कुछ पर शनि की ढैया आरंभ हो जाती है. कुल 3 चरणों में शनि की साढ़ेसाती चलती है. एक चरण ढाई साल तक होता है.

क्या होता है इन चरणों में?

  • धार्मिक मान्यताओं के अनुसार पहले चरण में शनि, मानसिक तनाव, मानसिक कष्ट आदि उत्पन्न करते हैं.

  • दूसरे चरण में शारीरिक कष्ट, आर्थिक समस्याएं उत्पन्न होती है.

  • तीसरे चरण में संबंधित राशि को दोनों चरणों में हुए नुकसान की भरपाई करवाते हैं.

कुंभ राशि वालों किन मामलों में रहना होगा सतर्क

  • इस दौरान आपके पारिवारिक लाइफ में उथल-पुथल हो सकता है.

  • व्यवसायिक जीवन भी हानि में जा सकता है.

  • स्वास्थ्य की समस्याएं उत्पन्न हो सकती है. रोगों का सामना करना पड़ सकता है.

  • धन-संपत्ति संबंधित परेशानियां उत्पन्न हो सकती हैं.

  • किसी आसान काम को भी करने में आपको समय और मेहनत ज्यादा लगाना पड़ सकता है.

  • सहयोगी भी आपको धोखा दे सकते हैं.

शनि की साढ़ेसाती के दौरान क्या बरतें सावधानी?

  • किसी से वाद-विवाद करने से बचें.

  • वाहन सावधानीपूर्वक चलाएं.

  • संभव हो तो रात में यात्रा न करें.

  • कानूनी उलझन से दूरी बनाने की कोशिश करें.

  • शनिवार और मंगलवार को खास तौर पर शराब या मांस का सेवन ना करें.

  • इन दोनों दिन न तो काले कपड़े की खरीदारी करें और ना चमड़े के सामान खरीदें.

  • किसी गलत कार्य में सम्मिलित होने से बचें.

Posted By: Sumit Kumar Verma

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें