1. home Hindi News
  2. opinion
  3. in many blessings there are also many sorrows article by madhu kankaria srn

बहुत सी खुशनसीबी में कई उदासियां भी

पूंजीवादी बाजार स्त्री को लगातार एक व्यक्ति से एक वस्तु में तब्दील कर रहा है. अब यह जरूरी है कि स्त्री बाजार की इस चाल को समझे और उसके प्रशंसा-पत्र को अस्वीकार करे,

By मधु कांकरिया
Updated Date
बहुत सी खुशनसीबी में कई उदासियां भी
बहुत सी खुशनसीबी में कई उदासियां भी
pti

Prabhat Khabar App :

देश, दुनिया, बॉलीवुड न्यूज, बिजनेस अपडेट, टेक & ऑटो, क्रिकेट और राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

googleplayiosstore
Follow Us:
  • Facebookicon
  • Twitter
  • Instgram
  • youtube
  • googlenews
Share Via :
Published Date

अन्य खबरें