Advertisement

Company

  • Feb 18 2019 5:58PM
Advertisement

इंडियन ऑयल ने कच्चे तेल की खरीद के लिए अमेरिका से किया 1.5 अरब डॉलर का सौदा

इंडियन ऑयल ने कच्चे तेल की खरीद के लिए अमेरिका से किया 1.5 अरब डॉलर का सौदा

नयी दिल्ली : सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनी इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन (आईओसी) ने अगले वित्त वर्ष में अमेरिका से 30 लाख टन कच्चा तेल खरीदने के लिए 1.5 अरब डॉलर का सालाना सौदा किया है. कंपनी ने सोमवार को यह जानकारी दी. अमेरिका से 2017 में तेल आयात शुरू होने के बाद यह पहली बार है, जब किसी भारतीय रिफाइनरी ने सालाना अनुबंध पर हस्ताक्षर किये हैं.

इसे भी देखें : 'अमेरिकी प्रतिबंध के बावजूद चेन्नई रिफाइनरी की विस्तार परियोजना में भागीदार बनना चाहता है ईरान'

कंपनी ने बयान में कहा कि इंडियन ऑयल ने अमेरिकी ग्रेड के 30 लाख टन कच्चे तेल के आयात के लिए निर्धारित समय की अवधि को अंतिम रूप दिया है. यह उसकी कच्चे तेल आपूर्ति के स्रोतों में विविधता लाने की रणनीति के अनुरूप है. अनुबंध को 15 फरवरी को अंतिम रूप दिया गया. कंपनी ने बयान में कहा कि इस अनुबंध का अनुमानित मूल्य 1.5 अरब डॉलर है. यह किसी सार्वजनिक क्षेत्र की तेल कंपनी द्वारा तैयार किया गया पहला मियादी अनुबंध है.

इससे पहले, इंडियन ऑयल और अन्य सरकारी तेल कंपनियां अमेरिका से कच्चे तेल की खरीदारी हाजिर या तुरंत निविदा के आधार पर करती रही हैं. तय नीति के मुताबिक, इससे पहले कंपनियां निदेशक मंडल की मंजूरी के बिना निर्धारित मात्रा में कच्चा तेल खरीदने का अनुबंध नहीं कर सकती थी.

सार्वजनिक क्षेत्र की इंडियन ऑयल, भारत पेट्रोलियम और हिंदुस्तान पेट्रोलियम लिमिटेड अब तक पश्चिम एशिया की ज्यादातर राष्ट्रीय कंपनियों के साथ ही सालाना आयात सौदे करती रही हैं.

Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement