1. home Home
  2. national
  3. union minister ramdas athawale said that the we two our one policy is necessary for population control in the country vwt

पॉपुलेशन कंट्रोल के लिए 'हम दो, हमारे एक' वाली पॉलिसी जरूरी, बोले केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले

धर्मांतरण के मुद्दे पर केंद्रीय मंत्री कहा कि हिंदू हिंदू ही रहते हैं और मुस्लिम मुस्लिम ही रहते हैं.

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले.
केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले.
फोटो : ट्विटर.

नई दिल्ली : केंद्रीय सामाजिक न्याय मंत्री रामदास अठावले ने देश में जनसंख्या नियंत्रण के लिए 'एक परिवार, एक बच्चा' नीति यानी 'वन चाइल्ड पॉलिसी' बनाने की वकालत की है. उन्होंने शनिवार को कहा कि देश के लिए बढ़ती जनसंख्या को नियंत्रित करना बेहद जरूरी है. इसके लिए उनकी पार्टी वन चाइल्ड पॉलिसी का समर्थन करती है.

हालांकि, उन्होंने गुजरात के उपमुख्यमंत्री नितिन पटेल के उस बयान जिसमें उन्होंने कहा था कि 'देश में तभी तक संविधान और धर्मनिरपेक्षता रहेगी जब तक हिंदू बहुसंख्यक हैं' पर पूछे गए सवाल के जवाब में कहा कि हिंदुओं की संख्या कम होने के आसार नहीं हैं.

समाचार एजेंसी पीटीआई के अनुसार, शनिवार को मीडिया से बात करते हुए अठावले ने कहा कि मैं नहीं मानता कि हिंदुओं की संख्या कम हो जाने का कोई सवाल है. धर्मांतरण के मुद्दे पर केंद्रीय मंत्री कहा कि हिंदू हिंदू ही रहते हैं और मुस्लिम मुस्लिम ही रहते हैं. मुश्किल से एक या दो हिंदू मुस्लिम धर्म बदलते हैं.

अठावले ने कहा कि संविधान लोगों को वह करने की आजादी देता है, जो उन्हें पसंद हैं, कोई जबरन धर्मांतरण नहीं करा सकता है. उन्होंने आगे कहा कि हिंदू या मुस्लिम आबादी अनुपात में कोई बड़ा बदलाव नहीं आएगा. उन्होंने कहा कि देश के विकास के लिए आबादी को नियंत्रित करने की जरूरत है, चाहे वह हिंदुओं या मुसलमानों की आबादी हो.

राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) में शामिल रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया (अठावले ग्रुप के) प्रमुख ने वन चाइल्ड पॉलिसी का समर्थन किया है. उन्होंने कहा कि यदि हम एक परिवार एक बच्चा नीति को अपनाते हैं तो हम आबादी कम कर पाएंगे. अभी 'हम दो, हमारे दो' की नीति है.

उन्होंने कहा कि हमारी पार्टी मानती है कि आबादी घटाने के लिए हम दो हमारा एक (एक परिवार, एक बच्चा) कानून बने. अठावले ने कहा कि वह पीएम मोदी के सामने भी जल्द इस मुद्दे को उठाएंगे.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें