28.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

किसान और सरकार की वार्ता सफल हो, कांग्रेस नहीं चाहती, राहुल गांधी पर केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर का पलटवार

Farmers Protest नये कृषि कानून के खिलाफ दिल्ली के बॉर्डर पर जारी किसानों के आंदोलन को लेकर देश में सियासी बयानबाजी का सिलसिला लगातार जारी है. कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने किसानों के मुद्दे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्र सरकार पर हमला बोला है. वहीं, केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने राहुल गांधी के आरोपों पर पलटवार करते हुए कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा है. केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने राहुल गांधी से सवाल करते हुए कहा है कि अगर आज देश का किसान गरीब रहा तो किसकी नीति से गरीब रहा?

Farmers Protest नये कृषि कानून के खिलाफ दिल्ली के बॉर्डर पर जारी किसानों के आंदोलन को लेकर देश में सियासी बयानबाजी का सिलसिला लगातार जारी है. कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने किसानों के मुद्दे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्र सरकार पर हमला बोला है. वहीं, केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने राहुल गांधी के आरोपों पर पलटवार करते हुए कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा है. केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने राहुल गांधी से सवाल करते हुए कहा है कि अगर आज देश का किसान गरीब रहा तो किसकी नीति से गरीब रहा?

प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि कांग्रेस ने 50 साल जो विनाशकारी नीति चलाई, उसके कारण किसान गरीब रहा. उसकी उपज का कभी मूल्य नहीं दिया. प्रकाश जावड़ेकर ने पूछा, कांग्रेस का खेल क्या है? कल किसान और सरकार के बीच 10वें राउंड की चर्चा है. कैसे भी करके उसे असफल करना है, क्योंकि कांग्रेस नहीं चाहती की किसान की समस्या का समाधान हो. किसान और सरकार की वार्ता सफल हो, ये कांग्रेस नहीं चाहती है.

दरअसल, कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने आज प्रेसवार्ता के दौरान आरोप लगाया कि 4-5 परिवार देश पर हावी हैं. इसके जवाब में प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि देश पर अब किसी परिवार का राज नहीं है. 125 करोड़ जनता का राज है, ये परिवर्तन हुआ है. 50 साल कांग्रेस ने सरकार चलाई तो एक ही परिवार की सरकार चली.

गांधी परिवार पर हमला जारी रखते हुए केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने आगे कहा कि कांग्रेस को खून शब्द से बहुत प्यार है. मैं याद दिलाना चाहता हूं कि आप खेती का खून कह रहे हैं. परन्तु, आपने खून का खेल खेला. विभाजन के समय लाखों लोग मरे. 1984 के सिख दंगे में दिल्ली में तीन हजार के करीब सिखों को जिंदा जला दिया गया. कांग्रेस के शासन में लाखों किसानों के आत्महत्या कर लिया. क्या वो खून नहीं था? प्रकाश जावड़ेकर ने कहा, इन सब के बारे में कांग्रेस को अपनी राय जगजाहिर करनी चाहिए.

Also Read: हिन्दुस्तान की कमजोरी को देख रहा है चीन, देश के किसान पीएम मोदी से ज्यादा समझदार : राहुल गांधी

Upload By Samir Kumar

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें