1. home Hindi News
  2. national
  3. twitter war between bollywood actress urmila matondkar and kangana ranaut ruckus over shiv sena leaders 3 crore new office avd

'काश मैं भी आपकी तरह समझदार होती तो कांग्रेस को खुश करती' उर्मिला मातोंडकर पर कंगना रनौत का तंज

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Twitter war between Bollywood actress Urmila Matondkar and Kangana Ranaut
Twitter war between Bollywood actress Urmila Matondkar and Kangana Ranaut
twitter

बॉलीवुड की दो अभिनेत्रियों के बीच फिर से ट्विटर वार शुरू हो गयी है. हाल ही में कांग्रेस छोड़ शिवसेना में शामिल हुई बॉलीवुड अभिनेत्री उर्मिला मातोंडकर ने बताया कि कड़ी मेहनत से कमाये अपने पैसों से एक नया कार्यालय खरीदा है.

मातोंडकर ने यह बात कंगना रनौत द्वारा उन पर इस खरीद को लेकर निशाना साधने और इसे मातोंडकर के शिवसेना में शामिल होने से जोड़ने के बाद कही. दरअसल रनौत ने ट्विटर पर एक रिपोर्ट का स्क्रीनशॉट शेयर किया था, जिसमें दावा किया गया था कि मातोंडकर ने शिवसेना में शामिल होने के कुछ सप्ताह बाद तीन करोड़ रुपये से अधिक में कार्यालय खरीदा.

रनौत में रिपोर्ट शेयर करते हुए मातोंडर पर तंज कसते हुए लिखा, मातोंडकर जी, मैंने जो खुद के मेहनत से घर बनवाये वो भी कांग्रेस तोड़ रही है. सच में बीजेपी को खुश करके मेरे हाथ सिर्फ 25 से 30 केस केस ही लगे हैं. काश मैं भी आपकी तरह समझदार होती तो कांग्रेस को खुश करती, कितनी बेवकूफ हूं मैं, नहीं ???

उसके बाद मातोंडकर ने रनौत को टैग करते हुए ट्विटर पर एक वीडियो साझा किया और उन्हें एक मुलाकात का इंतजाम करने को कहा, जहां वह प्रमाण के लिए सभी दस्तावेजों के साथ मौजूद होंगी. उन्होंने वीडियो में कहा, इसका प्रमाण है कि कैसे मैंने 2011 में लगभग 25-30 वर्षों तक काम करने के बाद अपनी मेहनत के पैसे से फ्लैट खरीदा था. दस्तावेज में मार्च के पहले सप्ताह में फ्लैट की बिक्री के कागजात हैं.

उन्होंने वीडियो में कहा, इसमें इसके भी कागजात हैं कि कैसे मैंने उस पैसे से कार्यालय खरीदा जो मैंने अपनी मेहनत से कमाये थे. मैंने जो फ्लैट खरीदा था, वह राजनीति में आने से काफी पहले लिया था. 46 वर्षीय मातोंडकर ने रनौत को करोड़ों करदाताओं के पैसे से वाई-प्लस श्रेणी की सुरक्षा दिये जाने को लेकर भी निशाना साधा.

रनौत को सितंबर 2020 में उनकी उस टिप्पणी को लेकर विवाद के बीच गृह मंत्रालय द्वारा वाई-प्लस श्रेणी की सुरक्षा दी गई थी कि वह मुंबई पुलिस से डरती हैं. साथ ही मातोंडकर ने रनौत से उद्योग के उन लोगों की एक सूची भी पेश करने के लिए कहा, जिनके बारे में उनका दावा था कि वे मादक पदार्थ मामले में शामिल हैं.

गौरतलब है कि मातोंडकर ने 2019 में उत्तरी मुंबई निर्वाचन क्षेत्र से कांग्रेस उम्मीदवार के रूप में लोकसभा चुनाव लड़ा था. वह एक दिसंबर को महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाली शिवसेना में शामिल हो गई थीं.

Posted By - Arbind kumar mishra

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें