1. home Home
  2. national
  3. special casual leave for assam govt employees to celebrate happy new year know the detail mtj

असम: सरकारी कर्मचारियों को अनूठा गिफ्ट, माता-पिता, सास-ससुर के साथ वक्त बिताने के लिए मिली विशेष छुट्टी

सरकारी कर्मचारियों को अनूठा गिफ्ट, माता-पिता, सास-ससुर के साथ वक्त बिताने के लिए मिली विशेष छुट्टी

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
विशेष छुट्टी की असम के सीएम हिमंता विस्व सर्मा ने बतायी ये वजह
विशेष छुट्टी की असम के सीएम हिमंता विस्व सर्मा ने बतायी ये वजह
Twitter

दिसपुर: असम की हिमंता विस्व सरमा सरकार ने अपने कर्मचारियों को अनूठा हैप्पी न्यू ईयर गिफ्ट दिया है. असम के सरकारी कर्मचारियों को दो दिन का स्पेशल कैजुअल लीव दिया गया है. सरकार ने कहा है कि असम के सरकारी कर्मचारी दो दिन की विशेष छुट्टी ले सकेंगे, ताकि वे अपने बुजुर्ग माता-पिता या सास-ससुर के साथ वक्त बिता सकें.

इन दो दिनों की विशेष छुट्टी का पैसा उनके वेतन से नहीं कटेगा. असम सरकार के सामान्य प्रशासनिक विभाग ने इस संबंध में अधिसूचना भी जारी कर दी है. दो दिन की इस विशेष छुट्टी को स्पेशल कैजुअल लीव यानी विशेष आकस्मिक अवकाश नाम दिया गया है. ये छुट्टियां कर्मचारियों को सालाना मिलने वाले सीएल के अतिरिक्त होगी.

असम सरकार की ओर से कहा गया है कि लोग 6-7 जनवरी को अपने बुजुर्ग माता-पिता या ससुराल वालों के साथ वक्त बिता पायेंगे. कर्मचारी 8 और 9 जनवरी की छुट्टी के साथ अपनी इस छुट्टी को क्लब कर सकेंगे. यानी 6 से 9 जनवरी 2022 तक एक साथ छुट्टी ले पायेंगे.

हां, कर्मचारियों को छुट्टी से लौटने के बाद इसका प्रमाण अपने वरीय अधिकारियों को देना होगा कि उन्होंने जो छुट्टी ली है, उस दौरान वे अपने माता-पिता या सास-ससुर के साथ ही थे. असम के मुख्यमंत्री डॉ हिमंता विस्व सरमा ने कहा है कि कर्मचारियों को अपने माता-पिता या सास-ससुर के साथ बिताये गये लम्हों की तस्वीरें अपने सीनियर के पास जमा करनी होगी.

फोटो अपलोड करने के लिए पोर्टल

मुख्यमंत्री हिमंता विस्व सरमा ने कहा है कि सरकार जल्द ही एक वेब पोर्टल शुरू करेगी, जहां अधिकारी और कर्मचारी अपने बुजुर्ग माता-पिता और सास-ससुर के साथ तस्वीरें अपलोड कर सकेंगे. इसके बाद ही उनकी छुट्टी मंजूर की जायेगी. उन्होंने कहा कि 8 जनवरी को दूसरे शनिवार को सरकारी कर्मचारियों की छुट्टी रहती है. 9 जनवरी को रविवार है. इसलिए सरकार ने 6 और 7 जनवरी को विशेष आकस्मिक अवकाश देने का निर्णय लिया है.

हिमंता विस्व सरमा ने कहा कि असम सरकार चाहती है कि सरकारी कर्मचारियों के साथ-साथ सभी मंत्री, आईएएस, आईपीएस अधिकारी इस विशेष आकस्मिक अवकाश का लाभ लें. मुख्यमंत्री, मुख्य सचिव और पुलिस महानिदेशक को ये छुट्टियां नहीं मिलेंगी. सीएम ने कहा कि पुलिस वालों को एक साथ दो दिन की छुट्टी देना संभव नहीं है, लेकिन व्यवस्था की गयी है कि चार महीने के दौरान सभी पुलिसवालों को ये दो दिन की छुट्टी मिल जाये.

असम के सीएम ने कहा है कि अगले साल से सरकार निचले स्तर के अधिकारियों और कर्मचारियों को कुछ आर्थिक मदद देने की कोशिश करेगी, ताकि वे अपने बुजुर्ग माता-पिता या सास-ससुर को तीर्थयात्रा पर या पर्यटन स्थल पर घुमाने के लिए ले जा सकें. उन्होंने कहा कि हमारी कोशिश है कि हम अपनी पुरानी समृद्ध परंपराओं और संस्कृति की ओर लौटें. साथ ही यह भी स्पष्ट कर दिया कि पुलिस वालों को इस स्कीम का लाभ नहीं मिलेगा, क्योंकि उन्हें एक माह का स्पेशल लीव दिया जाता है.

Posted By: Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें