1. home Hindi News
  2. national
  3. seven hizbul mujahideen associated terrorists arrested from shopian in jammu and kashmir police tweeted information vwt

जम्मू-कश्मीर के शोपियां से हिज्बुल मजुाहिद्दीन से जुड़े सात आतंकी गिरफ्तार, पुलिस ने ट्वीट कर दी जानकारी

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
शोपियां पुलिस ने आतंकियों को किया गिरफ्तार.
शोपियां पुलिस ने आतंकियों को किया गिरफ्तार.
प्रतीकात्मक फोटो.
  • शोपियां पुलिस ने इन आतंकियों के पास से बरामद की आपत्तिजनक सामग्री

  • शुक्रवार को सुरक्षा बलों ने जम्मू-कश्मीर के डोडा से पकड़े थे अन्य आतंकी

  • डोडा से पकड़े गए आतंकी के पास से चीनी पिस्टल समेत जिंदा कारतूस बरामद

श्रीनगर : जम्मू-कश्मीर के शोपियां जिले से आतंकवादी संगठन हिज्बुल मुजाहिद्दीन से जुड़े सात लोगों को गिरफ्तार किया गया है. पुलिस ने शनिवार को ट्वीट कर कहा कि आतंकवादी संगठन हिज्बुल मुजाहिद्दीन के लिए काम करने वाले सात लोगों को शोपियां पुलिस ने गिरफ्तार किया है. पुलिस के अनुसार, गिरफ्तार लोगों के पास से आपत्तिजनक सामग्री बरामद की गई है. पुलिस ने बताया कि प्राथमिकी दर्ज कर ली गई है और जांच जारी है.

इसके साथ ही, शुक्रवार को जम्मू-कश्मीर में सुरक्षा बलों के हाथ एक बड़ी कामयाबी लगी है. वहां एक आतंकवादी को पकड़ा गया है. जम्मू-कश्मीर के डोडा से पकड़े गए इस आतंकवादी के पास तीन चीनी पिस्टल, 5 मैग्जीन और 15 जिंदा कारतूस बरामद हुए हैं. पुलिस और सीआरपीएफ के जवानों ने इस साझा ऑपरेशन को अंजाम दिया था. आतंकी की गिरफ्तारी डोडा के बखेरियन गांव से हुई है. आतंकी का नाम फिरदौस अहमद बताया गया है. उसे गुलाम अहमद नाम के शख्स के घर से पकड़ा गया है.

जम्मू कश्मीर पुलिस के मुताबिक डोडा के बखेरियन गांव में संयुक्त कॉर्डन और सर्च ऑपरेशन में सेना के 10आरआर, डोडा पुलिस, और CRPF ने किया गया था. बताया गया कि तलाशी अभियान के दौरान, 3 चीनी पिस्तौल, 5 चीनी पिस्तौल मैगज़ीन, 15 राउंड चीनी पिस्तौल और एक साइलेंसर बखेरियन के गुलाम अहमद नट्टू के घर से बरामद किए गए, जबकि पकड़े गए आतंकी की पहचान फिरदौस अहमद के रूप में की गई थी. जम्मू कश्मीर पुलिस आतंकी से लगातार पूछताछ कर रही है.

इसके पहले, गुरुवार यानी 11 मार्च को अनंतनाग जिले में सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में जैश-ए-मोहम्मद के दो आतंकवादी मारे गए थे. एक अधिकारी के अनुसार, सर्च अभियान के दौरान आतंकियों की मौजूदगी का पता लगने पर उन्हें समर्पण का मौका दिया गया, लेकिन उन्होंने सुरक्षा बल पर गोलीबारी कर दी जिसके बाद मुठभेड़ शुरू हो गई.

Posted by : Vishwat Sen

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें