1. home Hindi News
  2. national
  3. ruckus in patiala over protest march by two groups punjab latest news amh

Patiala Violence: पटियाला में शाम 7 बजे से कल सुबह 6 बजे तक कर्फ्यू, सीएम मान ने कहा- नहीं होगी शांति भंग

खबरों की मानें तो पटियाला में शुक्रवार को जुलूस निकालने पर बवाल हो गया और हिंसक झड़प शुरू हो गई. दो गुट आमने सामने हो गये. हिंसा के दौरान दोनों ओर से जमकर पत्थर चले.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Patiala Violence
Patiala Violence
ani

Patiala Violence: पंजाब के पटियाला से बड़ी खबर आ रही है. टीवी रिपोर्ट के अनुसार यहां काली माता मंदिर के पास दो गुटों में झड़प हो गयी. यहां तलवारें भी लहराई गई. झड़प के बाद इलाके में पुलिस बल तैनात कर दिया गया है. इसके साथ ही, प्रशासन की ओर से शुक्रवार की शाम सात बजे से शनिवार की सुबह छह बजे तक के लिए कर्फ्यू लागू कर दिया गया है.

इस बीच, मुख्यमंत्री भगवंत सिंह मान ने मीडिया से बातचीत के दौरान दावा किया है कि इलाके में शांति बहाल कर दी गई है. उन्होंने कहा कि हम स्थिति पर गंभीरता के साथ निगरानी रखे हुए हैं, किसी को राज्य में अशांति फैलाने नहीं दिया जा सकता. पंजाब में शांति और सद्भावना बेहद महत्वपूर्ण है.

बताया जा रहा है कि पंजाब के पटियाला में शुक्रवार को जुलूस निकालने पर बवाल हो गया और हिंसक झड़प शुरू हो गई. दो गुट आमने सामने हो गये. हिंसा के दौरान दोनों ओर से जमकर पत्थर चले. फायरिंग की भी खबर है.

पुलिस ने की फायरिंग

खबरों की मानें तो पटियाला में शुक्रवार को जुलूस निकालने पर बवाल हुआ. इस दौरान शिवसैनिक और खालिस्तानी समर्थक सिख संगठन भिड़ गये. दोनों तरफ से जमकर पत्थरबाजी की गई. बवाल को संभालने के लिए पुलिस पहुंची और दोनों पक्षों को रोकने के लिए फायरिंग की. वहीं तलवार लगने से एक पुलिसकर्मी के घायल होने की खबर है.

क्‍या कहा डीएसपी ने

क्षेत्र के डीएसपी की ओर से जानकारी दी गई है कि यहां कानून व्यवस्था की समस्या को देखते हुए पुलिस तैनात कर दी गई है. हम शिवसेना (दो समूहों में से एक) के प्रमुख हरीश सिंगला से बात कर रहे हैं क्योंकि उनके पास मार्च की अनुमति नहीं है.

क्‍या है मामला

बताया जा रहा है कि पटियाला के आर्य समाज चौक में शुक्रवार को शिव सेना की ओर से तय कार्यक्रम का आयोजन किया जाना था. ये लोग खालिस्तान का पुतला फूंक प्रदर्शन की तैयारी कर रहे थे. जिस वक्‍त तैयारी चल रही थी उस समय माहौल तनावपूर्ण बन गया. खबरों की मानें तो वहां खालिस्तानी समर्थक पहुंचे और विरोध करना शुरू कर दिया. इसके बाद बवाल शुरू हो गया.

पुलिस ने मामला शांत कराया

झड़प के बाद पुलिस ने दोनों पक्षों का समझाया और शांत कराया. लेकिन इस बाद भी खालिस्तानी समर्थक श्री काली माता मंदिर के अंदर तलवारें लेकर पहुंच गये. इस दौरान हिंदू नेताओं व खालिस्तानी समर्थकों के बीच पत्‍थरबाजी शुरू हो गई. बताया जा रहा है कि एक हिंदू नेता पर तेजधार हथियार के साथ हमला किया गया. झड़प के दौरान एसएचओ के हाथ पर तलवार भी लगी.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें