1. home Hindi News
  2. national
  3. prime minister narendra modi inaugurated bengaluru tech summit 2020 pm modi said digital india become lifestyle of comman people in india upl

Bengaluru Tech Summit: पीएम मोदी बोले- डिजिटल इंडिया लोगों की जीवनशैली बना, सरकार का मॉडल प्रौद्योगिकी पहले

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से बेंगलुरु प्रौद्योगिकी शिखर सम्मेलन (Bengaluru Tech Summit 2020) का शुभारंभ किया.
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से बेंगलुरु प्रौद्योगिकी शिखर सम्मेलन (Bengaluru Tech Summit 2020) का शुभारंभ किया.
Prabhat khabar

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से बेंगलुरु प्रौद्योगिकी शिखर सम्मेलन (Bengaluru Tech Summit 2020) का शुभारंभ किया. इस खास कार्यक्रम में नई तकनीक के साथ महामारी के बाद आने वाली प्रमुख चुनौतियों पर चर्चा होगी. सम्मेलन का शुभारंभ करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि केंद्र सरकार का ‘डिजिटल इंडिया' कार्यक्रम आज लोगों की जीवनशैली बन गया है, खासकर उन लोगों की जो गरीब हैं, हाशिए पर हैं तथा जो सरकार में हैं.

पीएम मोदी ने कहा कि उनकी सरकार का मॉडल ‘प्रौद्योगिकी पहले' है जिसका इस्तेमाल लोगों के जीवन में बहुत बदलाव लेकर आया है और इसके जरिए लोगों की गरिमा में वृद्धि हुई है. मोदी ने कहा कि 5 साल पहले हमने डिजिटल इंडिया की शुरुआत की थी. मुझे यह बताते हुए खुशी हो रही है कि इसे सरकार की किसी सामान्य पहल की तरह नहीं देखा जा रहा है.

प्रधानमंत्री ने कहा कि डिजिटल इंडिया की वजह से आज देश में मानव केंद्रित विकास हो रहा है. इतने बड़े स्तर पर इसके इस्तेमाल ने नागरिकों के जीवन में कई बदलाव किए हैं और इससे मिल रहे फायदे से हर कोई वाकिफ है. उन्होंने कहा कि प्रौद्योगिकी के इस्तेमाल से मानव गरिमा में वृद्धि हुई है. आज करोड़ों किसानों को सिर्फ एक क्लिक के जरिए आर्थिक मदद पहुंचती है.

जब देश में लॉकडाउन चरम पर था तब वह प्रौद्योगकी ही थी जिसने भारत के गरीबों को मदद सुनिश्चित की. उन्होंने कहा कि भारत ने सूचना के इस युग में विलक्षण ढंग से अपनी उपस्थिति दर्ज कराई है. उन्होंने कहा कि आज हमारे पास सर्वश्रेष्ठ दिमाग के साथ बड़ा बाजार भी है. हमारे प्रौद्योगिकी जगत के पास वैश्विक होने की क्षमता भी है. अब समय है कि भारत के प्रौद्योगिकी समाधानों को विश्व में ले जाएं.

‘बेंगलुरु टेक समिट' में ऑस्‍ट्रेलिया के प्रधानमंत्री स्‍कॉट मॉरिसन, स्विस कॉन्‍फेडरेशन के उपाध्‍यक्ष गाई पार‍मेलिन और कई अन्‍य गणमान्‍य हस्तियां भाग लेंगी. इनके अलावा, इस कार्यक्रम में भारत तथा पूरे विश्‍व के अग्रणी विचारक, उद्योग जगत के अग्रिम पंक्ति के नायक, तकनीकी विशेषज्ञ, अनुसंधानकर्ता, नवोन्‍मेषक, निवेशक, नीति निर्माता तथा शिक्षा क्षेत्र की महत्‍वपूर्ण हस्तियां भी शामिल होंगी.

3 दिनों के इस सम्मेलन का आयोजन कर्नाटक सरकार ने कर्नाटक नवाचार एवं प्रौद्योगिकी सोसाइटी (केआईटीएस), कर्नाटक सरकार के इन्‍फॉर्मेशन टेक्‍नोलॉजी संबंधी विजन ग्रुप, बायोटेक्‍नोलॉजी एंड स्‍टार्टअप, सॉफ्टवेयर टेक्‍नोलॉजी पार्क ऑफ इंडिया (एसटीपीआई) और एम.एम. एक्टिव साइंस टैक कम्‍युनिकेशन्‍स के सहयोग से किया है. इस वर्ष सम्‍मेलन का मुख्‍य विषय ‘नेक्‍स्‍ट इज नाओ' है. इसके तहत कोविड-19 महामारी के बाद के विश्‍व में उभरती मुख्‍य चुनौतियां और ‘सूचना प्रौद्योगिकी एवं इलेक्‍ट्रॉनिक्‍स' तथा बायोटेक्‍नोलॉजी के क्षेत्र में प्रमुख प्रौद्योगिकी और नवोन्‍मेषी तकनीकों के प्रभाव पर मुख्‍य रूप से चर्चा होगी.

Posted by: utpal kant

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें