1. home Hindi News
  2. national
  3. pradhanmantri swanidhi scheme for vendors pm narendra modi digital conversation with street vendors after corona and lockdown how to take benefit from pm swanidhi scheme india news hindi pwn

स्ट्रीट फूड वेंडर्स भी कर पायेंगे ऑनलाइन फूड डिलीवरी, जानें क्या है योजना, कैसे पाएं लाभ, क्या बोले पीएम मोदी

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना, मध्यप्रदेश के स्ट्रीट वेंडर्स से डिजिटल संवाद कर रहे हैं मोदी
प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना, मध्यप्रदेश के स्ट्रीट वेंडर्स से डिजिटल संवाद कर रहे हैं मोदी
Twitter

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज मध्य प्रदेश के स्ट्रीट वेंडर्स से वर्चुअल बात चीत की. इस दौरान पूरे प्रदेश के अलग अलग जगहों के वेंडर्स से उन्होंने बात चीत की. वेंडर्स ने प्रधानमंत्री को बताया कि किस प्रकार उन्हें पीएम स्वनिधि योजना का लाभ मिला है. इससे वे अपने परिवार को आगे बढ़ा रहे हैं. कार्यक्रम को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि स्ट्रीट वेंडर्स भी अपने सामानों की ऑनलाइन बिक्री कर सके इसके लिए सरकार कार्य कर रही है. अपनी सरकार की उपलब्धियों को गिनाते हुए उन्होंने कहा कि की भाजपा सरकार ने पिछले छह वर्षों में गरीबो के लिए जो कार्य किया है वो किसी ने भी नहीं किया है. उनकी सरकार ने चरणबद्ध तरीके से गरीबों को मदद पहुंचाने के लिए कार्य किया. इसके साथ ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सभी वेंडर्स को आगे तरक्की करने के लिए शुभकामनाएं दी. कोरोना महामारी के कारण लागू किये गये लॉक़डाउन के चलते रोजी रोटी का संकट झेल रहे स्ट्रीट वेंडर्स के लिए प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना की शुरुआत की गयी थी. इस स्कीम दो जुलाई को को लॉन्च किया गया था.

प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना के तहत सड़क किनारे छोटा-मोटा काम-धंधा करने वाले लोगों को 10,000 रुपये का लोन आसान शर्तों पर दिया जाता है. इसके लिए उन्हें कोई गांरटी नहीं देनी पड़ती है. योजना को आवास व शहरी मामलों के मंत्रालय द्वारा आत्मनिर्भर भारत अभियान के हिस्से के रूप में लॉन्च किया गया है. प्रधानमंत्री स्वनिधि वेबसाइट के मुताबिक अब तक इस योजना के तहत 10,12,936 लोगों ने आवेदन जमा किया है. इसमें से 3,43,019 लोगों का लोन पास कर दिया गया है जबकि 87,340 लोगों को लोन की राशि दी जा चुकी है.

किन्हें मिलेगा इस योजना का लाभ

प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना के तहत उन लोगों को लाभ दिया जायेगा जो लोग स़ड़क के किनारे ठेला या रेहड़ी पटरी पर दुकान चलाते हैं. इनमें फल-सब्जी बेचने वाले, लॉन्ड्री, सैलून, पान की दुकान चलाने वाले लोग समेत दूसरी दुकान चलाने वाले लोग शामिल हैं. योजना का लाभ उन्हें मिलेगा जो 24 मार्च 2020 या उससे पहले से सड़क किनारे ठेला या रेहड़ी पर दुकान लगाते हैं.

भुगतान पर मिलेगी सब्सिडी

योजना के तहत एक साल के लिए दस हजार रूपये का लोन मिलता है. लोन लेने के लिए किसी प्रकार की गारंटी नहीं ली जाती है. लोना का भुगतान मासिक किस्तों में करना होगा. पीएम स्वनिधि स्कीम में मिलने वाले लोन पर समय से किस्त जमा करने पर सात फीसदी सालाना की ब्याज सब्सिडी मिलती है, यह राशि सीधे लाभार्थी के खाते में तिमाही आधार पर आएगी. अगर आवेदन समय से पहले पूरी राशि का भुगतान कर देता है तो एक ही बार में सब्सिडी की राशि उसके खाते में आ जायेगी. डिजिटल पेमेंट करने पर सालाना 1200 रूपये का कैशबेक भी मिलेगा.

कैसे करें आवेदन

लोन के लिए आवेदन देने के लिए वेडर का मोबाइल नंबर आधार नंबर से लिंक होना जरूरी है. इसके बाद वेंडर वेबसाइट pmsvanidhi.mohua.org.in पर जाकर या मोबाइल ऐप की मदद से अप्लाई कर सकते हैं. इसके साथ ही सीएससी में जाकर भी लोन अप्लाई कर सकते हैं. आवेदक अपने इलाके के बैंकिग कॉरेसपोन्डेंट से भी संपर्क कर सकते हैं. वेंडर लोन अप्लाई करने के लिए वेबसाइट पर जाकर सर्वेक्षण सूची में जाकर अपना नाम चेक कर लें. जिन विक्रेताओं का नाम सर्वेक्षण सूची में है और अगर उनके पास पहचान पत्र या वेंडिंग का प्रमाण पत्र नहीं है वैसे विक्रेता वेबसाइट से एक प्रोविजनल सर्टिफिकेट ऑफ वेंडिंग ले सकते हैं.

लोन के लिए जरूरी दस्तावेज

लोन लेने के लिए केवाईसी के लिए आधार कार्ड या मतदाता पहचान पत्र का इस्तेमाल कर सकते हैं. इसके अलावा ड्राइविंग लाइसेंस, मनरेगा कार्ड और पैन कार्ड का भी इस्तेमाल कर सकते हैं.

कहां से मिलेगा लोन

पीएम स्वनिधि योजना के तहत क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक, स्मॉल फाइनेंस बैंक, सहकारी बैंक, नॉन बैंकिग फाइनेंस कंपनिया सेल्फ हेल्प ग्रूप बैंक, माइक्रो फाइनांस संस्थान से लोन ले सकते हैं. ध्यान रहे इस योजना का कार्यकाल मार्च 2022 तक है.

Posted By: Pawan Singh

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें