1. home Home
  2. national
  3. pm modi speech highlight india has achieved extraordinary goals in difficult challenges read 10 big things about speeches vwt

कठिन चुनौतियों में भारत ने पाया असाधारण लक्ष्य, त्योहारों में रहें सावधान, पढ़ें पीएम मोदी की 10 बड़ी बातें

अपने संबोधन में पीएम मोदी ने देशवासियों को त्योहारों में सावधानियां बरतने की हिदायत दी है. इसके साथ ही, उन्होंने उन लोगों से वैक्सीन नहीं लेने वालों को प्रोत्साहित करने की अपील भी की है, जिन्होंने वैक्सीन की दोनों डोज ले लिया है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी.
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी.
फोटो : ट्विटर.

नई दिल्ली : भारत ने केवल 9 महीने में कोरोना रोधी टीके की 100 करोड़ से अधिक डोज लगाकर दुनिया को अपनी ताकत का एहसास करा दिया है. शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राष्ट्र को संबोधित किया, जिसमें उन्होंने कई बड़ी बातें कही हैं. लेकिन, अपने संबोधन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देशवासियों को त्योहारों में सावधानियां बरतने की हिदायत दी है. इसके साथ ही, उन्होंने उन लोगों से वैक्सीन नहीं लेने वालों को प्रोत्साहित करने की अपील भी की है, जिन्होंने वैक्सीन की दोनों डोज ले लिया है. आइए, पढ़ते हैं उनके संबोधन की 10 बड़ी बातें...

10 बड़ी बातें...

उन्होंने कहा कि इस 100 करोड़ डोज से दुनिया भारत की इस ताकत को देख रहा है. भारत एक फार्मा हब के रूप में विकसित हो रहा है. भारत सबका साथ, सबका विश्वास और सबका विकास का जीता जागता उदाहरण है.

दुनिया में कहा जा रहा था कि इस महामारी में भारत के लिए लड़ना मुश्किल होगा. कहा यह जा रहा था कि भारत में इतना संयम कैसे बरता जाएगा. लेकिन भारत में 130 करोड़ आबादी को मुफ्त में वैक्सीन दी गई.

उन्होंने कहा कि बीमारी अगर भेदभाव नहीं करती तो वैक्सीन में भेदभाव क्यों. वैक्सीन में वीआईपी कल्चर को दूर किया गया.

कहा यह भी जा रहा था कि यहां वैक्सीन लगाने के लिए कोई आएगा ही नहीं, लेकिन भारत के लोगों ने 100 करोड़ डोज लेकर ऐसे लोगों को निरुत्तर कर दिया है.

वैक्सीन बनने से लेकर लगाने तक साइंस और साइंटिफिक अप्रोच रहा है. वैक्सीनेशन एक चुनौती थी. यह भगीरथ प्रयास से कम नहीं था. देश के सुदूर क्षेत्रों में इसे पहुंचाना कठिन था.

पीएम मोदी ने कहा कि हमने महामारी के खिलाफ देश की लड़ाई जन भागीदारी को अपनी पहली ताकत बनाया. देश ने अपनी एकजुटता को ऊर्जा देने के लिए ताली, थाली बजाई, दीए जलाए तब कुछ लोगों ने कहा था कि क्या इससे बीमारी भाग जाएगी? लेकिन हम सभी को उसमें देश की एकता दिखी, सामूहिक शक्ति का जागरण दिखा.

आज भारतीय कंपनियों को न केवल रिकॉर्ड निवेश मिल रहा है, बल्कि रोजगार सृजन भी हो रहा है. स्टार्ट-अप में रिकॉर्ड निवेश के साथ-साथ रिकॉर्ड स्टार्टअप यूनिकॉर्न भी विकसित किए जा रहे हैं.

भारत और विदेशों के विशेषज्ञ भारत की अर्थव्यवस्था को लेकर काफी सकारात्मक हैं. आज भारतीय कंपनियों में न केवल रिकॉर्ड निवेश आ रहा है बल्कि युवाओं के लिए रोजगार के नए अवसर भी पैदा हो रहे हैं.

हमें हर छोटी से छोटी चीज जो मेड इन इंडिया हो, जिसे बनाने में किसी भारतवासी का पसीना बहा हो, उसे खरीदने पर जोर देना चाहिए और ये सबके प्रयास से ही संभव होगा.

मैं सभी से अनुरोध करता हूं कि आने वाले त्योहारों को अत्यंत सावधानी के साथ मनाएं. मैं उन सभी लोगों से अपील करता हूं, जिन्होंने अभी तक कोविड-19 वैक्सीन की पहली खुराक नहीं ली है, उन्हें टीका लगवाने को सर्वोच्च प्राथमिकता देनी चाहिए. टीकाकरण कराने वालों को चाहिए कि वे दूसरों को प्रोत्साहित करें.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें