1. home Hindi News
  2. national
  3. nagrota encounter update india summons pakistan high high commission for supporting terror in pak land jaish e mohmmad pwn

नगरोटा एंकाउंटर पर भारत के तेवर सख्त, पाकिस्तान को दो टूक, कहा- आतंकियों को समर्थन देना करें बंद

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
नगरोटा एंकाउंटर पर भारत के तेवर सख्त, पाकिस्तान को दो टूक
नगरोटा एंकाउंटर पर भारत के तेवर सख्त, पाकिस्तान को दो टूक
PTI

जम्मू कश्मीर के नगरोटा में हुए सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ के लेकर भारत ने पाकिस्तान से कड़ी चिंता दर्ज की है. भारत ने पाकिस्तान से कहा है कि पाकिस्तान अपने देश में आतंकियों को समर्थन देना बंद करे. भारत ने पाकिस्तान से कहा है कि राष्ट्रीय सुरक्षा को सुरक्षित रखने के लिए भारत संकल्पित है.

गौरतलब है कि नगरोटा में मुठभेड़ में सुरक्षाबलों ने चार आंतकियों को ढेर कर दिया था. उनके पास से भारी मात्रा में अधियार बरामद किये गये थे. भी आतंकियों की संबंध जैश-ए-मोहम्मद से था. घटना को लेकर दिल्ली में पाकिस्तान उच्चायोग के अधिकारी को विदेश मंत्रालय ने समन भेजा था.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जम्मू-कश्मीर के नगरोटा एनकाउंटर को लेकर शीर्ष खुफिया अधिकारियों के साथ शुक्रवार को समीक्षा बैठक की. इस बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अलावा केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल, विदेश सचिव समेत शीर्ष खुफिया अधिकारी शामिल हुए.

सरकारी सूत्रों से मिली सूचना के मुताबिक, समाचार एजेंसी एएनआई ने बताया कि 26/11 के आतंकवादी हमले की बरसी पर एक बड़े हमले की योजना आतंकवादी बना रहे थे. इसी क्रम में जैश-ए-मोहम्मद के चार आतंकी सांबा में अंतरराष्ट्रीय सीमा से भारत में घुसपैठ कर जम्मू-श्रीनगर एनएच से एक ट्रक में जा रहे थे.

इसी दौरान नगरोटा टोल पर जांच को लेकर सुरक्षा बलों ने ट्रक को रोका. हथियारों से लैस आतंकियों ने सुरक्षाबलों पर ग्रेनेड से हमला कर दिया. मुठभेड़ में चारों आतंकियों को सुरक्षा बलों ने ढेर कर दिया. हालांकि, ट्रक चालक मौके से फरार हो गया.

सुरक्षा बलों को मौके से 11 एके-47 राइफल, छह एके-56 राइफल, तीन पिस्टल, 29 ग्रेनेड, मोबाइल, मैगजीन के साथ-साथ गोला-बारूद भी बरामद किया था. नगरोटा एनकाउंटर को लेकर जम्मू जोन के आईजी मुकेश सिंह ने भी कहा था कि संभव है कि आतंकी एक बड़े हमले की योजना बना रहे थे.

जम्मू-कश्मीर में जैश-ए-मोहम्मद के आतंकियों के मारे जाने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गृह मंत्री, राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार, विदेश सचिव, शीर्ष खुफिया अधिकारियों के साथ शुक्रवार को बैठक की. सूत्रों के मुताबिक, बैठक में बताया गया कि 26/11 मुंबई हमलों की बरसी पर आतंकवादी कुछ बड़ा करने की साजिश रच रहे थे.

Posted By: Pawan Singh

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें