1. home Hindi News
  2. national
  3. karnataka hijab row in mandya no entry in school with hijab school reopen prt

Karnataka Hijab Row: अब कर्नाटक के मांड्या में हिजाब को लेकर बवाल, शिक्षकों से उलझे अभिभावक, जमकर हुई बहस

कर्नाटक में हिजाब विवाद (Karnataka Hijab Row) थमने का नाम ही नहीं ले रहा है. अब मांड्या के एक स्कूल में अभिभावक और शिक्षक के बीच हिजाब को लेकर जमकर बहस हुई. खबर है कि, छात्राओं को स्कूल में प्रवेश से पहले हिजाब उतारने के लिए कहा गया.

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
Karnataka Hijab Row
Karnataka Hijab Row
pti, file

Karnataka Hijab Row: कर्नाटक में हिजाब विवाद (Karnataka Hijab Controversy) थमने का नाम ही नहीं ले रहा है. ताजा मामला मांड्या के एक स्कूल का है. जहां, स्कूल के बाहर अभिभावक और शिक्षक के बीच हिजाब को लेकर जमकर बहस हुई. खबर है कि, छात्राओं को स्कूल में प्रवेश से पहले हिजाब उतारने के लिए कहा गया. जिसका छात्राओं ने विरोध किया.

इस मामले को लेकर शिक्षक और अभिभावकों में जमकर बहस हुई. हिजाब (Karnataka Hijab Row) को लेकर शिक्षक का कहना है कि छात्राओं को स्कूल में आने से पहले अपना हिजाब उतारना होगा. जबकि, इस मामले में एक अभिभावक ने कहा कि छात्राओं को क्लास में जाने के बाद हिजाब उतारने के लिए कहा जा सकता है. लेकिन ये लोग हिजाब के साथ स्कूल में ही आने की इजाजत नहीं दे रहे हैं. बता दें, हिजाब विवाद के बीच कर्नाटक में आज से 10वीं क्लास तक की कक्षाएं खुले हैं.

गौरतलब है कि इससे पहले कर्नाटक में हिजाब विवाद (Karnataka Hijab Row) को लेकर स्कूलों को बंद कर दिया गया था. यहां तक की उडुपी और दक्षिण कन्नड व बेंगलुरु के संवेदनशील इलाकों में बढ़ते विवादों को देखते हुए धारा 144 लागू की गई है. इधर, विवाद को लेकर मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने रविवार को कहा था कि, प्रदेश में जल्द ही शांति और स्थिति सामान्य हो दजाएगी.

कब खुलेंगे कॉलेज: वहीं, सीएम बसवराज बोम्मई ने कॉलेजों को खोलने को लेकर कहा कि जैसे स्थिति सामान्य हो जाएगी कॉलेजों को भी खोल दिया जाएगा. उन्होंने कहा कि, स्थिति देखने के बाद कॉलेज खोलने का फैसला लिया जाएगा. इससे पहले, शुक्रवार को सरकार ने उच्च शिक्षा विभाग, कॉलेज और तकनीकी शिक्षा विभाग (डीसीटीई) के तहत आने वाले कॉलेजों को 16 फरवरी तक बंद कर दिया था.

बता दें, हिजाब विवाद (Karnataka Hijab Row) गहराने के साथ कर्नाटक के 9 फरवरी से राज्य में सभी हाई स्कूलों और कॉलेजों को तीन दिन के लिए बंद कर दिया था. इसको लेकर हाई कोर्ट में सुनवाई भी हुई. आज भी मामले पर सुनवाई है. विवाद को लेकर सुप्रीम कोर्ट का भी दरवाजा खटखटाया गया है.

Posted by: Pritish Sahay

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें