1. home Home
  2. national
  3. karnataka cong chief on alleged bitcoin scam we know bjp involved a letter was sent to pm with names of various ministers why are these names not coming out smb

Bitcoin Scam को लेकर कर्नाटक में गरमाई सियासत, प्रदेश कांग्रेस चीफ ने कहा- घोटाले में बीजेपी शामिल

Karnataka Bitcoin Scam बिटकॉइन घोटाले को लेकर कर्नाटक में सियासत गरमाने लगी है. कर्नाटक कांग्रेस प्रमुख डीके शिवकुमार कथित बिटकॉइन घोटाले को लेकर भारतीय जनता पार्टी पर निशाना साधा है. एएनआई की रिपोर्ट के मुताबिक, कर्नाटक कांग्रेस प्रमुख ने कहा कि हम जानते हैं कि इस घोटाले में वे (भाजपा) शामिल हैं.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Karnataka Cong Chief
Karnataka Cong Chief
twitter

Karnataka Bitcoin Scam बिटकॉइन घोटाले को लेकर कर्नाटक में सियासत गरमाने लगी है. कर्नाटक कांग्रेस के प्रमुख डीके शिवकुमार कथित बिटकॉइन घोटाले को लेकर भारतीय जनता पार्टी पर निशाना साधा है. न्यूज एजेंसी एएनआई की रिपोर्ट के मुताबिक, कर्नाटक कांग्रेस के प्रमुख ने कहा कि हम जानते हैं कि इस घोटाले में वे (भाजपा) शामिल हैं. उन्होंने कहा कि विभिन्न मंत्रियों के नाम के साथ पीएम को पत्र भेजा गया था. सवाल करते हुए उन्होंने कहा कि ये नाम सामने क्यों नहीं आ रहे हैं?

कर्नाटक कांग्रेस प्रमुख ने भाजपा पर हमला जारी रखते हुए आगे कहा कि वे मीडिया से हमारे नेताओं को उजागर करने के लिए कह रहे हैं. उन्होंने कहा कि सौ नाम होने दें, अगर उन्होंने किया है, तो उन्हें सलाखों के पीछे डाल दें. इससे पहले कांग्रेस विधायक प्रियांक खड़गे ने सोशल मीडिया पर नलिन कुमार कतील की चुप्पी पर सवाल उठाते हुए एक स्टेटस डाला है, मैं बिटकॉइन घोटाले के संबंध में नलिन कुमार कतील की चुप्पी को देखकर हैरान हूं.

प्रियांक ने कहा कि मुझे यकीन है कि उन्हें बिटकॉइन घोटाले के बारे में अच्छी जानकारी होनी चाहिए. उन्हें अपनी चुप्पी तोड़नी चाहिए. लोग उनकी रहस्यमय चुप्पी के बारे में अन्यथा सोच सकते हैं. बता दें कि नलिन कुमार कतील ने अभी तक इस घोटाले पर कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है. वहीं, उनकी पार्टी विपक्षी दलों कांग्रेस और जद (एस) के चौतरफा हमले का सामना कर रही है. सत्ता पक्ष के दो ताकतवर नेताओं की भूमिका पर विपक्ष ने सवाल खड़े किए है.

उल्लेखनीय है कि कर्नाटक में कांग्रेस और भाजपा आमने-सामने हैं और एक-दूसरे को घोटाले के लिए जिम्मेदार ठहरा रहे हैं. कांग्रेस ने आरोप लगाया है कि यह हजारों करोड़ रुपये का घोटाला है और यह भी दावा किया है कि सत्ताधारी पार्टी के नेताओं ने किंगपिन श्रीकी का इस्तेमाल किया है.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें