1. home Hindi News
  2. national
  3. kangana ranaut meet governor bhagat singh koshyari with lotus flower sanjay raut maharashtra government shiv sena rjt

Kangana Ranaut News: हाथ में कमल का फूल लेकर राज्यपाल से मिलने गई कंगना, लगने लगे ये कयास

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
हाथ में कमल का फूल लेकर राज्यपाल से मिलने गई कंगना
हाथ में कमल का फूल लेकर राज्यपाल से मिलने गई कंगना
फोटो - ANI

Kangana Ranaut News: महाराष्ट्र सरकार (Maharashtra Government) और शिवसेना (shiv sena) के साथ पिछले दिन हुए विवादों के बीच बॉलीवुड स्टार कंगना रनौत ने आज महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से मुलाकात की. राजभवन में कंगना की राज्यपाल से इस मुलाकात के बाद एक बार फिर राजनीति गलियारों में हलचल तेज हो गयी है. इस बार राजनीति गलियारों में हलचल तेज होना लाजमी भी था क्योंकि कंगाना राज्यपाल से मिलने के बाद हाथ में कमल का फूल लेकर बाहर निकली. इसके बाद ही ये कयास लगाने लगे की भाजपा में शामिल हो जायेंगी पर इस बात पर उन्होंने कहा कि वे राजनीति में नहीं आने वाली हैं.

कंगना ने राज्यपाल से की मुलाकात 

कंगना ने राज्यपाल से मुलाकात के बाद अपने ऑफिस में बीएमसी की तोड़फोड़ की कार्रवाई को लेकर राज्यपाल के सामने अपना पक्ष रखा है. मुलाकात के बाद कंगना ने कहा, 'मेरे साथ जो भी अन्याय हुई उसे लेकर बात की. वो हमारी अभिवावक हैं यहां पर. मुझे न्याय मिलेगा, मुझे उम्मीद है कि मुझे न्याय मिलेगा ताकी हमारे देश के लोगों का सिस्टम में भरोसा कायम हो. कंगना ने आगे कहा कि मुझे राज्यपाल महोदय ने बेटी की तरह सुना है. मुझे उम्मीद है कि न्याय मिलेगा. हमारे देश के जो लोग हैं खासकर जो बच्चियां उनका सिस्टम में भरोसा बना रहे.'

संजय राउत ने कंगना पर कही ये बात 

वहीं शिवसेना नेता संजय राउत ने कंगना से जारी विवाद पर कहा कि हमने कंगना के ऊपर बात करना बंद कर दिया है. जिसको जो करना है कर लीजिए. हम सुनेंगे पर बोलेंगे नहीं लेकिन हर बात को हम नोट करेंगे. देख रहे हैं कि कौन सी पार्टी देश और महाराष्ट्र के बारे में क्या सोचती है और उनकी सोच कितनी बुरी है. बता दें है कि अभिनेत्री कंगना रनौत द्वारा मुंबई की तुलना पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) से किये जाने के बाद से उनके और शिवसेना सांसद संजय राउत के बीच जुबानी जंग चल रही है. जो अभी भी जारी है.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें