1. home Hindi News
  2. national
  3. india china spy dragon north east and jammu kashmir mehbooba mufti pm and president india and china latest news avh

ड्रैगन के निशाने पर नॉर्थ ईस्ट और जम्मू कश्मीर ! हालात बिगाड़ने के लिए बड़े नेताओं की कर रहा है जासूसी, खुलासा

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
ड्रैगन के निशाने पर नॉर्थ ईस्ट और जम्मू कश्मीर ! हालात बिगाड़ने के लिए बड़े नेताओं की कर रहा है जासूसी, खुलासा
ड्रैगन के निशाने पर नॉर्थ ईस्ट और जम्मू कश्मीर ! हालात बिगाड़ने के लिए बड़े नेताओं की कर रहा है जासूसी, खुलासा
pti photo

चीन की नापाक हरकत एक बार फिर पूरी दुनिया के सामने आई है. ड्रैगन भारत के नॉर्थ ईस्ट और जम्मू कश्मीर इलाके में हाइब्रिड वार करने की तैयारी में है, जिसको लेकल नॉर्थ ईस्ट और जम्मू कश्मीर के बड़े नेताओं का इंटरनेट जासूसी करा रहा है. चीन के इस घटिया हरकत का खुलासा एक रिपोर्ट में हुआ है.

इंडियन एक्प्रेस की रिपोर्ट के अनुसार चीन की सत्ताधारी दल के नेतृत्व वाली आई संगठन झेन्हुआ आईटी इंफो द्वारा नॉर्थ ईस्ट और जम्मू कश्मीर के नेताओं की भी जासूसी कराई जा रही है. इनमें जम्मू कश्मीर के पूर्व सीएम महबूबा मुफ्ती, पूर्व केंद्रीय मंत्री सैफुद्दीन सोज और कांग्रेस नेता करण सिंह शामिल हैं.

नॉर्थ ईस्ट के ये नेता निशाने पर- बता दें कि चीन नॉर्थ ईस्ट में भी स्थिति खराब करने की कोशिश में है. नॉर्थ ईस्ट के नेता और केंद्रीय मंत्री किरेन रिजिजू, मेघालय के सीएम कोनराड संगमा, नागालैंड के सीएम नेफियो रियो और अरुणाचल के सीएम पेमा खांडू है. वहीं नॉर्थ ईस्ट के कई नौकरशाह भी ड्रैगन के निशाने पर है.

वहीं रिपोर्ट के खुलासे के बाद भारत स्थित चीनी दूतावास ने इसपर सफाई दी है. चीनी दूतावास के एक अधिकारी ने अंग्रेजी अखबार को बताया कि इस तरह का कोई कार्य नहीं किया गया है. वहीं बताया जा रहा है कि खुलासे से पहले ही कंपनी ने अपने सभी प्रोग्राम को शटडाउन कर दिया है.

पीएम, राष्ट्रपति और सीजेआई भी निशाने पर- बता दें कि ड्रैगन पीएम नरेंद्र मोदी, राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, सीजेआई शरद अरविंद बोबडे और कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी सहित कई बड़े नेता निशाने पर है. इस खुलासे के बाद भारत सरकार भी चौंकन्ना हो गई है.

गौरतलब है कि 15 जून की रात भारत और चीनी सैनिकों के बीच हुई झड़प की घटना के बाद दोनों देशों के बीच विवाद चरम पर है. इधर 29 और 30 की रात चीनी सैनिकों ने पूर्वी लद्दाख में गतिरोध वाले स्थल पर फिर घुसने की कोशिश की. हालांकि भारतीय जवानों ने उनकी इस कोशिश को मुंहतोड़ जवाब दिया और उन्हें खदेड़ दिया. खबर ये भी है कि करीब 500 चीनी सैनिकों ने घुसपैठ की कोशिश की, लेकिन भारतीय सैनिकों ने उन्हें 4 किलोमीटर अंदर तक खदेड़ दिया और चीन के कब्जे वाले क्षेत्र पर अपना कब्जा जमा लिया.

Posted By : Avinish Kumar Mishra

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें