1. home Home
  2. national
  3. ied rdx recovered in delhi punjab before republic day ssb jawan injured in ied blast chhattisgarh mtj

दिल्ली-पंजाब में RDX मिलने से हड़कंप, गणतंत्र दिवस से पहले छत्तीसगढ़ में IED ब्लास्ट, SSB के 3 जवान घायल

गणतंत्र दिवस से पहले दिल्ली-पंजाब में RDX-IED जैसे घातक विस्फोटक मिले हैं, तो छत्तीसगढ़ के कांकेर जिला में आईईडी विस्फोट हो गया, जिसमें एसएसबी के 3 जवान घायल हो गये.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
दिल्ली: आईईडी बनाने में हुआ था आरडीएक्स का इस्तेमाल
दिल्ली: आईईडी बनाने में हुआ था आरडीएक्स का इस्तेमाल
Twitter

नयी दिल्ली: गणतंत्र दिवस से पहले मकर संक्रांति (Makar Sankranti) के दिन देश की राजधानी और पाकिस्तान (Pakistan) से सटे सीमावर्ती प्रदेश पंजाब (Punjab) में विस्फोटक बरामद हुए हैं, तो छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) में इम्प्रोवाइज्ड एक्सप्लोसिव डिवाइस (IED) ब्लास्ट हुआ है. छत्तीसगढ़ के कांकेर जिला के कोरसोंडा कैंप के पास संक्षिप्त गोलीबारी के बाद एक आईईडी ब्लास्ट हुआ, जिसमें सीमा सुरक्षा बल (एसएसबी) के तीन जवान घायल हो गये. पाकिस्तान की सीमा से महज 2.5 किलोमीटर दूर पंजाब के अमृतसर स्थित घरिंदा इलाके से एसटीएफ ने 5 किलो विस्फोटक बरामद किया, जिसमें 2.7 किलो आरडीएक्स था.

अमृतसर के एसटीएफ के एआईजी रशपाल सिंह ने बताया कि भारत-पाकिस्तान की सीमा वागा-अटारी के निकट स्थित एक गांव से 5 किलो आईईडी बरामद हुआ है. रशपाल सिंह ने बताया कि उन्हें सूचना मिली थी कि पाकिस्तान के निकट ड्रग्स बरामद है. इस सूचना पर जब हम जांच के लिए पहुंचे, तो वह ड्रग्स नहीं, विस्फोटक था. जहां यह विस्फोटक मिला है, वहां से एक लाख रुपये नकद भी बरामद हुआ है. अमृतसर एसटीएफ के एआईजी ने कहा कि विस्फोटक पाकिस्तान से भेजे गये हैं.

सीनियर पुलिस ऑफिसर ने बताया है कि मामले की जांच शुरू कर दी गयी है. जल्दी ही पुलिस उन लोगों तक पहुंच जायेगी, जिनके पास पाकिस्तान से यह खेप भेजी गयी थी. उन्होंने बताया कि वाघा-अटारी सीमा के पास के गांव से जो विस्फोटक बरामद हुआ है, उसका वजन करीब 5 किलोग्राम है.

अमृतसर के आईडी बॉर्डर रेंज मोहनीश चावला ने बताया है कि हमने 5 किलो आईईडी बरामद किया है, जिसमें करीब पौने तीन किलो (2.7 केजी) आरडीएक्स, 1.3 किलो आयरन बॉल, कोडेक्स वायर, इलेक्ट्रिक डेटोनेटर के अलावा डिजिटल टाइमर भी लगा है. बड़े पैमाने पर इस विस्फोटक से नुकसान पहुंचाया जा सकता था.

छत्तीसगढ़ में नक्सलियों ने किया बारूदी सुरंग विस्फोट

छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित कांकेर जिले में नक्सलियों ने बारूदी सुरंग में विस्फोट कर दिया. इसकी वजह से सशस्त्र सीमा बल (एसएसबी) के तीन जवान घायल हो गये. घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है. पुलिस अधिकारियों ने शुक्रवार को यहां बताया कि जिले के रावघाट थाना क्षेत्र के अंतर्गत पटकलबेड़ा गांव के जंगल में नक्सलियों ने बारूदी सुरंग में विस्फोट कर दिया.

पुलिस अधिकारियों ने बताया कि जिले के कोसरोंडा शिविर से एसएसबी के जवानों को गश्त में रवाना किया गया था. जवान जब पटकलबेड़ा गांव के जंगल में थे, तब नक्सलियों ने बारूदी सुरंग में विस्फोट कर दिया. इस घटना में तीन जवान घायल हो गये. उन्होंने बताया कि घटना के बाद घायल जवानों को जंगल से बाहर निकाला गया और अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

पुलिस अधिकारियों ने बताया कि जिले के रावघाट और ताड़ोकी क्षेत्र में निर्माणाधीन दल्लीराजहरा (बालोद जिला)-रावघाट (कांकेर) रेलवे परियोजना की सुरक्षा के लिए वर्ष 2016 से एसएसबी के 33वीं और 28वीं बटानिलयन को तैनात किया गया है.

दिल्ली के आईईडी में हुआ था आरडीएक्स का इस्तेमाल

इससे पहले देश की राजधानी दिल्ली में भी आईईडी बरामद हुआ था. दिल्ली के गाजीपुर इलाके में आईईडी बरामद हुआ था. एनएसजी के बम निरोधक दस्ता ने इसे समय रहते डिफ्यूज कर दिया. एनएसजी के डायरेक्टर जनरल एमएम गणपति ने बताया है कि शुरुआती जांच में पता चला है कि गाजीपुर से बरामद आईईडी के निर्माण में अमोनियम नाइट्रेट और आरडीएक्स जैसे विस्फोटकों का इस्तेमाल किया गया है.

सीसीटीवी खंगाल रही दिल्ली पुलिस

इधर, दिल्ली पुलिस ने बताया कि पूर्वी दिल्ली के गाजीपुर फूल बाजार के बाहर विस्फोटक रखने के पहले पूरे इलाके की रेकी की गयी थी. पुलिस सीसीटीवी फुटेज खंगाल रही है, ताकि विस्फोटक रखने वालों तक पहुंच सके. दिल्ली पुलिस ने बताया है कि सुबह 10:20 बजे उसके पास एक कॉल आया, जिसमें बताया गया कि गाजीपुर फूल बाजार के पास एक लावारिस बैग पड़ा है. पुलिस को जिस शख्स ने सूचना दी, उसकी स्कूटी के पास यह बैग रखा गया था.

एनएसजी ने बताया कि दिल्ली पुलिस से उन्हें दिन में 11 बजे सूचना मिली कि गाजीपुर में आईईडी बरामद हुआ है. तीन किलो वजन के इस आईईडी को एनएसजी के बम निरोधक दस्ता ने दिन में करीब 1:30 बजे निष्क्रिय कर दिया. गणतंत्र दिवस (26 जनवरी) से पहले राष्ट्रीय राजधानी और उससे सटे पंजाब में विस्फोटक की बरामदगी ने पुलिस और सुरक्षा बलों की चिंता बढ़ा दी है.

Posted By: Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें