1. home Hindi News
  2. national
  3. cwc meeting update news congress big talk of meeting these proposals passed avd

CWC Meeting : जानें, कांग्रेस कार्य समिति की बैठक की बड़ी बातें, ये प्रस्ताव हुए पास

By Agency
Updated Date
twitter

नयी दिल्ली : कांग्रेस कार्य समिति (सीडब्ल्यूसी) ने सोमवार को मैराथन बैठक के बाद सोनिया गांधी से पार्टी का अंतरिम अध्यक्ष बने रहने का आग्रह किया गया. बैठक की शुरू हंगामेदार रहा. जिसमें सोनिया गांधी को वरिष्ठ नेताओं की ओर से लिखे गये पत्र का मुद्दा काफी चर्चा में रहा. जिसपर सोनिया गांधी और राहुल गांधी भी नाराज नजर आये. बैठक में वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद और सिब्बल ने इस्तीफे की धमकी भी दी, हालांकि जैसे-जैसे बैठक आगे बढ़ी सारी नाराजगी खत्म हो गयी और सोनिया गांधी को अंतरिम अध्यक्ष के रूप में चुन लिया गया.

सीडब्ल्यूसी की बैठक में ये प्रस्ताव हुए पारित

बैठक में कई प्रस्ताव पारित किये गये. जिसमें सीडब्ल्यूसी ने पार्टी के सामने आ रही चुनौतियों से निपटने के लिये आवश्यक संगठनात्मक बदलाव के लिये सोनिया गांधी को अधिकृत किया. इसके अलावा कांग्रेस का अनुशासन एवं गरिमा बनाए रखने के लिए अपनी बातें पार्टी के मंच पर रखने की नसीहत दी गयी. कहा गया कि किसी को भी पार्टी एवं इसके नेतृत्व को कमजोर करने की अनुमति नहीं दी जाएगी.

पार्टी के अंदरूनी मामलों पर विचार-विमर्श मीडिया के माध्यम से या सार्वजनिक पटल पर नहीं किया जा सकता है. कांग्रेस कार्य समिति ने सभी कार्यकर्ताओं व नेताओं को राय दी कि पार्टी से संबंधित मुद्दे पार्टी के मंच पर ही रखे जाएं, ताकि उपयुक्त अनुशासन भी रहे और संगठन की गरिमा भी.

सीडब्ल्यूसी ने कांग्रेस के हर आम कार्यकर्ता की व्यापक राय व इच्छा को प्रतिबिंबित करते हुए, कांग्रेस कार्यसमिति की यह बैठक सोनिया गांधी एवं राहुल गांधी के हाथों व प्रयासों को हरसंभव तरीके से मजबूत करने का संकल्प लेती है.

सीडब्ल्यूसी में प्रस्ताव पारित किया गया कि पार्टी एवं इसके नेतृत्व को कमजोर करने की अनुमति न तो किसी को दी जा सकती है और न ही किसी को दी जाएगी. आज हर कांग्रेसी कार्यकर्ता एवं नेता की जिम्मेदारी है कि वह भारत के लोकतंत्र, बहुलतावाद व विविधता पर मोदी सरकार द्वारा किए जा रहे कुत्सित हमलों का डटकर मुकाबला करे.

गौरतलब है कि सीडब्ल्यूसी की बैठक आरंभ होने के साथ ही सोनिया ने पद छोड़ने की पेशकश की और कहा कि सीडब्ल्यूसी नया अध्यक्ष चुनने के लिए प्रक्रिया आरंभ करे. इसके बाद पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और कुछ अन्य नेताओं ने उनसे आग्रह किया कि वह पद पर बनी रहें. सोनिया को पत्र लिखने वाले नेताओं पर ‘भाजपा के साथ साठगांठ' करने के आरोप से जुड़ी राहुल गांधी की एक कथित टिप्पणी की खबर आने और वरिष्ठ नेता कपिल सिब्बल के मोर्चा खोलने के बाद बड़ा विवाद खड़ा हो गया, हालांकि बाद में पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला की ओर से कहा गया कि राहुल गांधी ने ऐसा कोई बयान नहीं दिया.

राहुल गांधी की टिप्पणी के बाद वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा कि यह आरोप साबित होने पर वह पार्टी से इस्तीफा दे देंगे. बाद में आजाद ने कहा कि राहुल गांधी ने सीडब्ल्यूसी की बैठक के भीतर या बाहर ऐसी कोई टिप्पणी नहीं की.

सीडब्ल्यूसी की बैठक से एक दिन पहले रविवार को पार्टी में उस वक्त नया सियासी तूफान आ गया था जब पूर्णकालिक एवं जमीनी स्तर पर सक्रिय अध्यक्ष बनाने और संगठन में ऊपर से लेकर नीचे तक बदलाव की मांग को लेकर सोनिया गांधी को 23 वरिष्ठ नेताओं की ओर से पत्र लिखे जाने की जानकारी सामने आयी.

Posted By - Arbind Kumar Mishra

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें