1. home Hindi News
  2. national
  3. covid task force head warning about the crowd gathered at hill stations said a new coronavirus may spread aml

हिल स्टेशनों पर उमड़ी भीड़ को लेकर कोविड टास्क फोर्स हेड की चेतावनी, कहा- फैल सकता है एक नया वायरस

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Symbolic Image
Symbolic Image
PTI

नयी दिल्ली : कोविड-19 टास्क फोर्स (Covid Task Force) के प्रमुख ने फिर से चेतावनी जारी की है कि हिल स्टेशनों (Hill Station) पर सैलानियों की जो भीड़ उमड़ रही है, वह कोरोना के नये वेरिएंट (New Variant of Coronavirus) को आमंत्रित कर रही है. जहां एक ओर देश में अब भी 40 हजार से ऊपर संक्रमण के नये मामले सामने आ रहे हैं, वहीं कई जगहों से चिंतित करने वाली तस्वीरें आ रही हैं. इंडियन एक्सप्रेस की खबर के मुताबिक पर्यटन स्थलों पर भीड़ और सामाजिक दूरी का पालन नहीं करना खतरनाक हो सकता है.

नीति आयोग के सदस्य (स्वास्थ्य) डॉ वीके पॉल ने कहा कि लोगों का लापरवाह रवैया कोरोना विस्फोट के लिए जिम्मेदार होगा. कोरोना की दूसरी लहर अभी खत्म नहीं हुई है. पिछले दो हफ्तों में दैनिक नये मामलों के ग्राफ पर उन्होंने कहा कि नये मामलों में गिरवाट एक संकेत मात्र है. अगर हम कोरोना प्रोटोकॉल का इसी प्रकार उल्लंघन करते रहे तो मामले बढ़ने में समय नहीं लगेगा.

पॉल ने कहा कि भारत में यह कहना की स्थिति नियंत्रण में है, दैनिक मामलों की संख्या 10 हजार के आस-पास होना चाहिए. उन्होंने कहा कि यह सही है कि गिरावट का ग्राफ धीमा हुआ है. पहले तेज गति से मामले में गिरावट आ रही थी. हम स्थिति को हल्के में नहीं ले सकते. खासकर उन्होंने पर्यटकों से आग्रह किया है कि कोविड उपयुक्त व्यवहार करें तो नये वेरिएंट को दावत न दें.

डॉ पॉल ने कहा कि बहुत प्रयास और कठिनाई के बाद हम ऐसी स्थिति में पहुंचे हैं, जहां नये मामले घट रहे हैं. कुछ जिले ही ऐसे हैं जो अभी भी नये मामलों के तेजी दिखा रहे हैं. अगर हमारा रवैया यही रहा तो हम बहुत जल्द मामलों को तेजी से बढ़ा देंगे. अब भी ऐसा नहीं कहा जा सकता है कि हमने वायरस पर काबू पा लिया है. अगर हम वायरस को एक और मौका देते हैं तो नये वेरिएंट से फिर से तबाही मच सकती है.

पॉल ने देश के कई हिस्सों में विशेष रूप से हिल स्टेशनों पर कोविड मानदंडों के घोर उल्लंघन के बारे चेतावनी दी है. बता दें कि हाल के दिनों में मसूरी और मनाली जैसे स्थानों पर पर्यटकों की भारी भीड़ उमड़ी थी. पॉल ने कहा कि देश के भीतर, हम लोगों को आत्मसंतुष्ट देख रहे हैं. छोटे और बड़े शहरों, बाजारों, खासकर पर्यटन स्थलों, जहां लोग विश्राम के लिए जा रहे हैं, दोनों में हो रहे उल्लंघनों को हम वहां एक नया जोखिम उभरता हुआ देख सकते हैं. यदि इस प्रकार का मेलजोल जारी रहता है और यदि सामाजिक दूरी के मानदंडों का उल्लंघन किया जाता है, तो वायरस तेजी से फैल सकता है.

पॉल ने कहा कि हमें एक संतुलित दृष्टिकोण रखने की आवश्यकता है. हालांकि पर्यटन की आवश्यकता है. परंतु अगर उल्लंघन होते हैं, तो गंभीर स्थिति हो सकती है. हम इसे इस समय रोक सकते हैं. यह चिंता का विषय है क्योंकि जो दृश्य देखे जा रहे हैं, वहां भीड़ मिल रही है, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं किया जा रहा है. इसे प्रधानमंत्री द्वारा गुरुवार को हुई कैबिनेट बैठक में भी उठाया गया था.

Posted By: Amlesh Nandan.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें