1. home Hindi News
  2. national
  3. covid 19 vaccination none of the available vaccines affects fertility union ministry of health and family welfare clarify rjh

क्या कोरोना वैक्सीन लगवाने वाले हो जायेंगे बांझपन के शिकार, जानिए क्या कहता है स्वास्थ्य मंत्रालय

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
COVID-19 vaccination in India
COVID-19 vaccination in India
Twitter

पिछले डेढ़ साल से पूरा विश्व कोविड महामारी से त्रस्त है और किसी भी तरह इससे छुटकारा चाहता है. अबतक विश्व में इस बीमारी से 40 लाख लोगों की मौत हो चुकी है. ऐसे में कोरोना वैक्सीन ही एकमात्र उपाय नजर आ रहा है जिसके जरिये इसपर लगाम कसी जा सकती है. लेकिन कोरोना वैक्सीन के साइट इफैक्ट को लेकर लोगों के मन में अभी भी कई तरह की शंकाएं हैं जबकि देश में 28 करोड़ लोगों को कोरोना का टीका लग चुका है.

कोरोना वैक्सीन के साइड इफैक्ट को लेकर जो सबसे बड़ी चिंता लोगों के मन में है और मीडिया ने भी इसपर काफी खबरें छापी हैं, वो ये है कि क्या कोरोना वैक्सीन लगवाने के बाद प्रजनन शक्ति कम हो जायेगी या इंसान चाहे स्त्री हो या पुरुष बांझपन का शिकार हो जायेगा? इस चिंता का निवारण करते हुए स्वास्थ्य मंत्रालय ने अपनी वेबसाइट के FAQs सेक्शन में स्पष्टीकरण दिया है.

मंत्रालय की ओर से कहा गया है कि पोलियो और खसरा-रूबेला के खिलाफ टीकाकरण अभियान के दौरान भी भ्रम फैलाने की कोशिश की गयी थी. कोरोना वैक्सीन प्रजनन क्षमता को प्रभावित नहीं करता है, सभी वैक्सीन का ट्रॉयल पहले जानवरों पर किया जाता है उसके बाद ही उसे इंसानों के लिए बनाया जाता है.

स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा है कि कोविड ​​-19 वैक्सीन स्तनपान कराने वाली महिलाओं के लिए भी सुरक्षित है. विशेषज्ञों के राष्ट्रीय समूह (एनईजीवीएसी) ने स्तनपान कराने वाली सभी महिलाओं के लिए कोविड ​​-19 टीकाकरण को सुरक्षित करार दिया है. विशषज्ञों का कहना है कि ना तो टीकाकरण से पहले और ना ही बाद में स्तनपान को रोकने की जरूरत है.

Posted By : Rajneesh Anand

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें