1. home Hindi News
  2. national
  3. coronavirus pandemic a common blood thinning drug are usefull for covid 19 treatment aml

Coronavirus: रक्त को पतला करने वाली दवा से बंधी उम्मीदें, कोरोना संक्रमितों के इलाज में कारगर

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Coronavirus Pandemic
Coronavirus Pandemic
File Photo

पुणे : कोरोनावायरस ने पूरी दुनिया में तबाही मचा रखी है. एक ओर कई बड़े देश कोविड 19 की वैक्सीन बनाने में जुटे हैं. वहीं भारत में भी कोराना वैक्सीन पर काम काफी आगे बढ़ चुका है. इसके इलाज में कई प्रकार की दवाओं का प्रयोग किया जा रहा है. अब रक्त पतला करने वाली दवा एक सामान्य दवा लो मॉलिक्यूलर वेट हेपरिन (LMWH) से कोविड-19 रोगियों के लिए एक संभावित उपचार में मदद मिल रही है.

डॉक्टरों ने कहा कि दवा एक सीधे लगाये जाने वाले इंजेक्शन के बाद अस्पताल में भर्ती की अवधि को कम करने में मदद करती है और रिकवरी दर में सुधार करती है. इस दवा के प्रयोग से अचानक होने वाली मौत की दर में 90 फीसदी से अधिक कमी आ सकती है.

इस दवा के नतीजों से उत्साहित विशेषज्ञों ने अंग्रेजी अखबार टाइम्स ऑफ इंडिया से कहा कि अब देश भर में डॉक्टर्स इस दवा का उपयोग रक्त में होने वाली जलन और इसके थक्के बनने से रोकने के लिए एक रोगनिरोधक (निवारक) चिकित्सा के रूप में कर रहे हैं. खून का थक्का बनना और जलन यह मानव शरीर पर SARS-CoV-2 से होने वाली दो मुख्य लक्षणों में भी शामिल हैं.

पुणे के एक क्रिटिकल केयर विशेषज्ञ सुबल दीक्षित ने कहा कि इटली की पोस्टमार्टम रिपोर्ट्स से पता चला है कि कोविड-19 से नसों में छोटे रक्त के थक्के (माइक्रो-थ्रोम्बस) बनते हैं, और साथ ही सूजन भी हो जाती है. उन्होंने कहा कि भारत में डॉक्टर महामारी की शुरुआत से ही ब्लड थिनर, मुख्यतः LMWH का इस्तेमाल कर रहे हैं. लेकिन उनका उपयोग अब कई गुना बढ़ गया है. उनके प्रभावी होने के साक्ष्य भी बढ़ रहे हैं.

देश में कोरोना संक्रमण के मामलों की संख्या 35 लाख के पार

देश में एक दिन में कोरोना वायरस संक्रमण के 78,761 नये मामले सामने आये जिसके बाद रविवार को संक्रमण के कुल मामलों की संख्या 35 लाख के पार पहुंच गई. सप्ताह भर पहले ही संक्रमितों की संख्या 30 लाख से अधिक हुई थी. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा दिये गये आंकड़ों में यह जानकारी सामने आई. मंत्रालय ने बताया कि रविवार तक कोविड-19 के 27,13,933 मरीज ठीक हो चुके हैं. कुल मामलों की संख्या बढ़कर 35,42,733 हो गई और कोविड-19 से मरने वालों की संख्या 63,498 पर पहुंच गई.

आंकड़ों के अनुसार पिछले चौबीस घंटे में कोविड-19 के 948 मरीजों की मौत हो गयी. महामारी के शिकार हुए मरीजों के ठीक होने की दर बढ़कर 76.61 प्रतिशत हो गई है और इससे होने वाली मृत्यु दर घटकर 1.79 प्रतिशत रह गई है. मंत्रालय से प्राप्त आंकड़ों के अनुसार देश में वर्तमान में कोविड-19 के 7,65,302 मरीजों का इलाज चल रहा है जो संक्रमण के कुल मामलों का 21.60 प्रतिशत है.

Posted By: Amlesh Nandan.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें