1. home Home
  2. national
  3. corona third wave experts opinion situation worsens health infrastructure may collapse rts

कोरोना की तबाही! अब स्थिति बिगड़ी तो संभालना होगा मुश्किल, हेल्थ इन्फ्रास्ट्रक्चर हो सकता है ध्वस्त

डॉ संदीप नायर ने कहा कि रोजाना देश में कोरोना के अधिक मामले सामने आ रहे हैं. अगर 10 लाख केस आने लगे तो डॉक्टर भी संक्रमित हो जाएंगे, जिससे हेल्थ इन्फ्रास्ट्रक्चर पर बोझ पड़ेगा.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
डॉ संदीप नायर, बीएलके अस्पताल दिल्ली
डॉ संदीप नायर, बीएलके अस्पताल दिल्ली
ANI

Coronavirus cases in India, Third wave Alert: देश में कोरोना की रफ्तार तेज होती जा रही है. रोजाना मामलों में बढ़ोतरी हो रही है. फिलहाल देश में ढाई लाख से अधिक मामले सामने आ रहे हैं. वहीं, विशेषज्ञों के अनुमान के मुताबिक तीसरी लहर की पीक फरवरी में आ सकती है. इस दौरान देश में एक दिन में 10 लाख से अधिक मामले दर्ज किए जाने की आशंका जताई गई है. वहीं, बीएलके अस्पताल दिल्ली के श्वसन रोग विभाग के एचओडी डॉ संदीप नायर ने इसे लेकर बड़ी चेतावनी दी है. उन्होंने कहा कि हालात बिगड़े तो संभालना मुश्किल हो जाएगा.

डॉ संदीप नायर ने कहा कि रोजाना देश में कोरोना के अधिक मामले सामने आ रहे हैं. अगर 10 लाख केस आने लगे तो डॉक्टर भी संक्रमित हो जाएंगे, जिससे हेल्थ इन्फ्रास्ट्रक्चर पर बोझ पड़ेगा. उन्होंने उम्मीद जताते हुए कहा कि ऐसी स्थिति उत्पन्न नहीं होगी. हमें कोरोना के प्रसार को रोकने के लिए प्रोटोकॉल के उचित व्यवहार का पालन करना चाहिए. बता दें कि देश में कोरोना की दूसरी लहर के दौरान स्वास्थ्य सुविधाओं की घोर कमी ने कई लोगों की जान ले ली थी. कोरोना के बजाय लोग ऑक्सीजन और अस्पतालों में बेड नहीं मिलने की वजह से गंभीर स्थिति जूझ रहे थे. अब तीसरी लहर में स्थिति न बिगड़े इसके लिए अभी से सावधान रहने की जरूरत महसूस की जा रही है.

WHO की चेतावनी, डेल्टा के घातक लहर जैसी स्थिति हो सकती है उत्पन्न

वहीं भारत में बढ़ते संक्रमण को देखते हुए विश्व स्वास्थ्य संगठन ने भी चेतावनी जारी कर दी है. संयुक्त राष्ट्र की एक रिपोर्ट में स्पष्ट तौर पर कहा गया है कि भारत में अप्रैल और जून 2021 के बीच कोविड-19 के डेल्टा स्वरूप की घातक लहर में 2 लाख 40 हजार लोगों की मौत हो गई थी. इतना ही नहीं देश में आर्थिक संकट भी बढ़ा था. WHO ने चेताते हुए कहा कि निकट समय में भी इसी तरह के हालात उत्पन्न हो सकते हैं. आपको बता दें कि देश में पिछले 24 घंटों में कोरोना के 2.64 लाख से ज्यादा नए केस सामने आये हैं. वहीं, अब तक 5,753 मरीजों में कोरोना के नए वैरिएंट ‘ओमिक्रॉन’ की पुष्टि हुई है.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें