1. home Home
  2. national
  3. corona death in india cremation ground worker asked for five thousand bribe to show mothers face for the last time pkj

अंतिम बार मां का चेहरा दिखाने के लिए श्मशान घाट कर्मचारी ने मांगा पांच हजार घूस

corona and corruption corona and corruption news देश में कोरोना संक्रमण की वजह से ऑक्सीजन और अस्पताल में बिस्तरों की कमी साफ देखी गयी. देश के कई राज्यों में अस्पताल में बिस्तर और ऑक्सीजन के लिए घूस देने का मामला सामने आया. कोरोना संक्रमण की दवाओं को लेकर कालाबाजारी के कई मामले सामने आये, ऐसे कई गिरोह का पर्दाफाश हुआ जो कालाबाजारी में शामिल थे.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
corona and corruption
corona and corruption
file

देश में कोरोना संक्रमण की वजह से ऐसे - ऐसे क्षेत्र में भ्रष्टाचार के मामले सामने आये जिसने सभी को हैरान कर दिया .एक ऐसा ही मामला ओडिशा के क्योंझार जिले में सामने आया जहां श्मशान घाट में मां का चेहरा देखने के लिए श्मशान घाट के कर्मचारी ने 5000 रुपये की मांग कर दी.

देश में कोरोना संक्रमण की वजह से ऑक्सीजन और अस्पताल में बिस्तरों की कमी साफ देखी गयी. देश के कई राज्यों में अस्पताल में बिस्तर और ऑक्सीजन के लिए घूस देने का मामला सामने आया. कोरोना संक्रमण की दवाओं को लेकर कालाबाजारी के कई मामले सामने आये, ऐसे कई गिरोह का पर्दाफाश हुआ जो कालाबाजारी में शामिल थे.

भ्रष्टााचार की आग श्मशान घाट तक भी पहुंची जहां आत्मसंस्कार के लिए पैसे की मांग की गयी. एक समय था जब कई राज्यों में श्मशान घाट में अंतिम संस्कार के लिए भी जगह नहीं थे ऐसे में अंतिम संस्कार के लिए ज्यादा से पैसे देने पड़े.

अब ओडिशा के क्योंझार जिले में कोरोना से निधन के बाद मां को के अंतिम संस्कार के लिए व्यक्ति जब श्मशान घाट पहुंचा तो उसे एक बार अपनी मां की शक्ल देखने के लिए पांच हजार रुपये की मांग की गयी. हैरान करने वाली बात यह है कि इस घटना का पूरा वीडियो रिकार्ड हुआ और अब यह वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. इस वीडियो में श्मशान घाट के कर्मचारी को यह कहते हुए सुना जा सकता है कि अगर तुम अगर तुम 5,000 रुपये दोगे, तभी मैं चेहरा पूरी तरह देखने दूंगा, नहीं तो जैसे शव पीपीई किट में पैक मिला है, वैसे ही उसका अंतिम संस्कार कर दूंगा.

मृतक के बेटे ने कहा, अगर मुझे मेरी मां को अंतिम बार देखने के लिए पांच हजार रुपये देने पड़ेंगे तो मैं इसका वीडियो रिकार्ड करूंगा और इसे इंटरनेट पर भी अपलोड करूंगा. अगर मुझे इस बात के लिए जेल भी जाना पड़े तो मैं जाऊंगा लेकिन इसे सोशल मीडिया पर अपलोड करूंगा.

जब श्मशान घाट के प्रबंधकों तक यह बात पहुंची तो उन्होंने कर्मचारी के बर्ताव को लेकर खेद व्यक्त किया. मामले पर जिले के कलेक्टर आशीष ठाकरे ने कहा कि, हमें इस तरह का एक वीडियो मिला है, मैंने इस पर जांच के आदेश दिए हैं। जांच पूरी होने के बाद उपयुक्त कार्रवाई की जाएगी.

इस वीडियो पर लोगों ने तरह - तरह की प्रतिक्रिया दी है.जिसमें लोगों ने कहा, इस संक्रमण के दौर में ऐसे कई लोगो के चेहरे सामने आये जिसने सभी को हैरान कर दिया. कोरोना संक्रमण से निधन के बाद अस्पताल प्रशासन पीपीई किट के साथ शव लेकर श्मशान घाट पहुंचता है,ऐसे में कई मौकों पर लोगों को अपने परिजनों का चेहरा देखने तक का मौका नहीं मिलता.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें