1. home Hindi News
  2. national
  3. bijapur encounter 5 jawans martyred 15 jawans missing sukma encounter chhattisgarh amh

Chhattisgarh Encounter : सुकमा के नक्सल हमले में 22 सुरक्षाकर्मियों की गई जान, नक्सलियों ने एलएमजी और रॉकेट का किया था इस्तेमाल

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Bijapur Encounter
Bijapur Encounter
pti
  • बीजापुर और सुकमा जिले के सीमावर्ती इलाके में हुई सुरक्षा बलों और नक्सलियों के बीच मुठभेड़

  • सुरक्षा बल के 22 जवान शहीद

  • घायल जवानों के इलाज के लिए सीएम भूपेश बघेल ने दिए निर्देश


Bijapur Encounter : छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित बीजापुर और सुकमा जिले की सीमा में सुरक्षा बलों और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ में सुरक्षा बल के 22 जवान शहीद हो गए जबकि कई अन्य जवान घायल हो गए. कमलोचन कश्यप (एसपी बीजापुर) ने बताया कि छत्तीसगढ़ के सुकमा में हुए नक्सली हमले में 22 सुरक्षाकर्मियों की जान चली गई है.

इससे पहले छत्तीसगढ़ पुलिस सूत्रों ने बताया था कि सुकमा मुठभेड़ के बाद कम से कम 15 जवान लापता थे. घायल जवानों में, 23 को बीजापुर अस्पताल में और 7 को रायपुर के अस्पताल में भर्ती कराया गया है. पुलिस घटनास्थल पर पहुंच मामले की जांच में लगी है.

पुलिस अधिकारियों के मुताबिक सुरक्षा बलों ने घटनास्थल से एक महिला नक्सली का शव बरामद किया है. शनिवार को राज्य के नक्सल विरोधी अभियान के पुलिस उप महानिरीक्षक ओपी पाल ने ‘पीटीआई-भाषा' को बताया कि बीजापुर और सुकमा जिले के सीमावर्ती क्षेत्र में सुरक्षा बलों और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ में सुरक्षा बल के पांच जवान शहीद हो गए हैं तथा 30 अन्य जवान घायल हैं. वहीं कुछ जवानों के लापता होने की जानकारी है.


पाल ने बताया कि शुक्रवार की रात बीजापुर और सुकमा जिले से केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के कोबरा बटालियन, डीआरजी और एसटीएफ के संयुक्त दल को नक्सल विरोधी अभियान में रवाना किया गया था. उन्होंने बताया कि नक्सल विरोधी अभियान में बीजापुर जिले के तर्रेम, उसूर और पामेड़ से तथा सुकमा जिले के मिनपा और नरसापुरम से लगभग दो हजार जवान शामिल थे.

पुलिस अधिकारी ने बताया कि शनिवार दोपहर लगभग 12 बजे बीजापुर-सुकमा जिले की सीमा पर सुकमा जिले के जगरगुंड़ा थाना क्षेत्र के अंतर्गत जोनागुड़ा गांव के करीब नक्सलियों की पीएलजीए बटालियन तथा तर्रेम के सुरक्षा बलों के मध्य मुठभेड़ हुई. मुठभेड़ तीन घंटे से अधिक समय तक चली.

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने मुठभेड़ में पांच जवानों की शहादत पर दुख व्यक्त किया है. राज्य के वरिष्ठ अधिकारियों ने बताया कि बघेल ने शहीदों के परिजनों के प्रति संवेदना प्रकट करते हुए कहा है कि सुरक्षा बलों की शहादत व्यर्थ नहीं जाएगी. हमारे जवानों ने शौर्य का परिचय देते हुए नक्सलियों को भी भारी नुकसान पहुंचाया है. नक्सलियों के विरूद्ध सुरक्षा बल और भी तेजी से अभियान चलाएंगे. मुख्यमंत्री ने इस घटना में घायल जवानों को बेहतर इलाज की सुविधा उपलब्ध कराने का निर्देश दिया है.

गौर हो कि 23 मार्च को नक्सलियों ने नारायणपुर जिले में बारूदी सुरंग में विस्फोट कर बस को उड़ा दिया था. इस घटना में बस में सवार डीआरजी के पांच जवान शहीद हो गए थे.

अमित शाह ने ट्वीट कर श्रद्धांजलि दी

नक्सली हमले में जान गंवाने वाले जवानों को अमित शाह ने ट्वीट कर श्रद्धांजलि दी है.

भाषा इनपुट के साथ

Posted By : Amitabh Kumar

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें