1. home Hindi News
  2. national
  3. bihar election 2020 ljp leader chirag paswan attacks bihar government over development issues abk

Bihar Vidhan Sabha Chunav 2020: NDA से अलग होने पर चिराग पासवान का बयान, कहा- तेजस्वी यादव मेरे छोटे भाई जैसे

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
लोक जनशक्ति पार्टी नेता चिराग पासवान
लोक जनशक्ति पार्टी नेता चिराग पासवान
पीटीआई

पटना : बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर राजद और जेडीयू के प्रत्याशियों के नामों के ऐलान किए जाने की बातें सामने आई है. दूसरी तरफ लोजपा ने बिहार में अकेले चुनाव लड़ने का फैसला लिया है. इसी बीच आरोप-प्रत्यारोप का दौर भी जारी है. सोमवार को लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) के नेता चिराग पासवान ने बड़ा बयान दिया. उन्होंने बिहार सरकार पर राज्य की जनता से किए गए वायदों को पूरा नहीं करने का आरोप लगाया. साथ ही बिहार के विकास पर भी सवाल उठाए.

‘जनता करती है नेता का फैसला’

चिराग पासवान ने समाचार एजेंसी एएनआई से राजद के सीएम प्रत्याशी तेजस्वी यादव पर भी बड़ा बयान दिया. चिराग ने कहा कि वो (तेजस्वी यादव) उनके छोटे भाई के जैसे हैं. मैं उन्हें शुभकामना देता हूं. लोकतंत्र में जनता के सामने जितना ज्यादा विकल्प होता है उतना ही अच्छा होता है. जनता पर छोड़ देना चाहिए कि वो किसे अपना नेता चुनती है.

‘पीएम नरेंद्र मोदी में काफी भरोसा’ 

चिराग पासवान ने कहा मुझे पीएम नरेंद्र मोदी में काफी भरोसा है. पीएम मोदी के डबल इंजन की सरकार को सही से फॉलो किया जाता तो यह ठीक होता. पीएम मोदी के विजन को सही से धरातल पर लागू किया जाता तो डबल इंजन की सरकार को परिभाषित किया जा सकता था.

‘लोजपा ने कठिन रास्ते को चुना’

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक एनडीए से अलग होने के सवाल पर चिराग पासवान ने कहा कि वो गठबंधन में जा सकते थे. गठबंधन में शामिल होना उनके लिए काफी आसान था. लेकिन, उन्होंने कठिन रास्ते को चुना. बिहार चुनाव में लोक जनशक्ति पार्टी ने अकेले लड़ने का फैसला लिया है. हम बिहार के खोए सम्मान को वापस लाने की लड़ाई लड़ रहे हैं.

’अंतिम व्यक्ति को नहीं मिला लाभ’

चिराग पासवान ने बिहार सरकार पर राज्य में विकास नहीं करने का आरोप लगाया. चिराग पासवान के मुताबिक हमें बिहार के वर्तमान सीएम नीतीश कुमार से काफी अपेक्षाएं थी. लेकिन, बिहार सरकार जनता से किए गए वायदों को पूरा नहीं कर सकी है. जहां तक बिहार के विकास के विचार को देखें तो समाज के अंतिम व्यक्ति तक विकास योजनाओं को पहुंचाने में सफलता नहीं मिली है.विधानसभा चुनाव के पहले चिराग पासवान का बयान काफी अहम माना जा रहा है.

राज्य में अकेले चुनाव लड़ेगी लोजपा

दरअसल, रविवार को लोजपा संसदीय दल की बैठक में बिहार चुनाव अकेले लड़ने का फैसला लिया गया था. लोजपा ने ऐलान किया था कि बिहार में नीतीश कुमार के नेतृत्व में चुनाव नहीं लड़ा जाएगा. जबकि, लोजपा के सरकार गठन में बीजेपी को समर्थन देने की बातें भी सामने आई थी. बता दें बिहार में तीन चरणों में चुनाव होंगे. पहले चरण की वोटिंग 28 अक्टूबर, दूसरे चरण की 3 नवंबर और तीसरे चरण की वोटिंग 7 नवंबर को होगी. जबकि, 10 नवंबर को चुनाव परिणामों का ऐलान होगा.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें