29.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

भूपेश बघेल बुरे फंसे! ईडी का दावा- छत्तीसगढ़ के सीएम को महादेव ऐप के मालिकों से मिले 508 करोड़ रुपए

ईडी ने दावा किया है कि उसने पैसे का लेन-देन करने वाले एक व्यक्ति का बयान दर्ज किया है, जिसने आरोप लगाया है कि महादेव सट्टेबाजी ऐप के प्रवर्तक छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को अब तक 508 करोड़ रुपए का भुगतान कर चुके हैं. साथ ही ईडी ने कहा कि यह जांच का विषय है.

छत्तीसगढ़ में विधानसभा चुनाव से ऐन पहले सूबे के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल बुरी तरह से घिर गए हैं. केंद्रीय जांच एजेंसी प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने दावा किया है कि भूपेश बघेल को महादेव ऐप के मालिकों से 508 करोड़ रुपए मिले हैं. ईडी ने दावा किया है कि उसने पैसे का लेन-देन करने वाले एक व्यक्ति का बयान दर्ज किया है, जिसने आरोप लगाया है कि महादेव सट्टेबाजी ऐप के प्रवर्तक छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को अब तक 508 करोड़ रुपए का भुगतान कर चुके हैं. साथ ही ईडी ने कहा कि यह जांच का विषय है. एजेंसी चुनाव वाले राज्य छत्तीसगढ़ में पैसे का लेन-देन करने वाले असीम दास के पास से 5.39 करोड़ रुपए बरामद करने के बाद उसे गिरफ्तार कर चुकी है. ईडी महादेव ऑनलाइन सट्टेबाजी ऐप और उसके प्रवर्तकों के खिलाफ धनशोधन रोधी कानून के तहत जांच कर रही है. एजेंसी ने एक बयान में कहा, ‘असीम दास से पूछताछ, उसके पास से बरामद फोन की फॉरेंसिक जांच और शुभम सोनी (महादेव नेटवर्क के उच्चपदस्थ आरोपियों में से एक) द्वारा भेजे गए ई-मेल की पड़ताल से कई चौंकाने वाले आरोप सामने आए हैं. पता चला है कि महादेव ऐप के प्रमोटर छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को अतीत में नियमित तौर पर भुगतान करते रहे हैं और अब तक लगभग 508 करोड़ रुपए का भुगतान किया जा चुका है.’

भूपेश ने लगाए थे गंभीर आरोप – सीआरपीएफ के विमान में आ रहे हैं बड़े-बड़े बक्से

ईडी ने कहा कि यह जांच का विषय है. बता दें कि इसके पहले आरोप-प्रत्यारोप का दौर जारी है. सुबह में छत्तीसगढ़ बीजेपी के एक नेता ने कहा था कि भूपेश बघेल के उस बयान पर पलटवार किया था, जिसमें उन्होंने कहा था कि केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के विमानों में बड़े-बड़े बक्से आ रहे हैं. इसमें रुपए भी हो सकते हैं, जिसका इस्तेमाल छत्तीसगढ़ के वोटर्स को प्रभावित करने के लिए किया जा सकता है. इसलिए इलेक्शन कमीशन को सीआरपीएफ और जांच के नाम पर बार-बार छत्तीसगढ़ आ रही केंद्रीय जांच एजेंसी ईडी की टीम की गाड़ियों की भी जांच करनी चाहिए कि उनकी गाड़ियों में क्या आ और जा रहे हैं.

महादेव ऐप से जुड़े हैं सीएम सचिवालय के तार : बीजेपी

सीएम बघेल के इस बयान पर पलटवार करते हुए बीजेपी नेता ने कहा कि छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री को इसके लिए सीआरपीएफ से माफी मांगनी चाहिए. उन्होंने कहा कि ईडी ने छत्तीसगढ़ में फिर से कल (दो नवंबर को) छापेमारी की. इसमें रायपुर में एक कार से 1.80 करोड़ रुपए मिले, जो कूरियर सर्विस से हवाला के जरिए आया था. उसकी निशानदेही पर भिलाई में छापेमारी हुई, जहां एक ड्राइवर असीम दत्ता के यहां पांच करोड़ रुपए से अधिक नकद और जमीन के कागजात भी मिले. बीजेपी नेता ने कहा कि ऐसा माना जा रहा है कि ये महादेव सट्टा ऐप से जुड़ा पैसा है, जो संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) से हवाला के जरिए आया था. उन्होंने आरोप लगाया कि इन पैसों का इस्तेमाल छत्तीसगढ़ चुनाव में होना था. बीजेपी नेता ने कहा कि कहीं न कहीं महादेव सट्टा ऐप के तार मुख्यमंत्री सचिवालय से जुड़े हैं. इसलिए सीएम सचिवालय यह जवाब दे कि यह पैसा किसका है और किस पार्टी के खर्च के लिए आ रहा है.

छत्तीसगढ़ में सात और 17 नवंबर को चुनाव

बता दें कि छत्तीसगढ़ में विधानसभा चुनाव के लिए दो चरणों में मतदान होने जा रहा है. पहले चरण में सात नवंबर को 20 विधानसभा सीटों पर मतदान होगा, जबकि दूसरे चरण में 17 नवंबर को मतदान होना है. वर्ष 2018 में हुए पिछले चुनाव में कांग्रेस पार्टी ने बीजेपी से सत्ता छीन ली थी. कांग्रेस ने 90 में से 68 विधानसभा सीटें जीत लीं थीं, जबकि बीजेपी को महज 15 सीटों पर ही जीत मिल पाई थी. इस बार कांग्रेस सत्ता में बरकरार रहने के लिए जोर लगा रही है, तो बीजेपी फिर से सत्ता में लौटने की कोशिश कर रही है. बता दें कि छत्तीसगढ़ विधानसभा के चुनाव परिणाम तीन दिसंबर को आएंगे.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें