शाहीन बाग: वार्ताकार का सुप्रीम कोर्ट में हलफनामा- धरना शांतिपूर्ण मगर पुलिस ने बंद किए हैं रास्ते

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

नयी दिल्लीः सीएए के खिलाफ शाहीनबाग में जारी धरना-प्रदर्शन को लेकर एक बड़ी खबर सामने आ रही है. सुप्रीम कोर्ट की ओर से नियुक्त वार्ताकार वजाहत हबीबुल्ला ने सुप्रीम कोर्ट में आज एक हलफनामा दायर किया है. उन्होंने हलफनामे में कहा है कि शाहीनबाग में प्रदर्शन शांतिपूर्ण तरीके से चल रहा है. पुलिस ने पांच जगहों पर रोड ब्लॉक किया है. अगर इन सड़कों को खोल दिया जाता तो ट्रैफिक सामान्य तरीके से चलने लगेगा. हलफनामे में कहा गया है कि पुलिस ने बेवजह रास्ता बंद किया, जिसकी वजह से लोगों को परेशानी हुई.

गौरतलब है कि शाहीन बाग में 2 महीने से अधिक समय से संशोधित नागरिकता कानून के खिलाफ प्रदर्शन चल रहा है. सुप्रीम कोर्ट से नियुक्त किए गए वार्ताकारों ने शाहीन बाग जाकर आंदोलनकारियों से बात की, लेकिन अभी तक सारा रास्ता नहीं खुलवाया जा सका है. प्रदर्शन पर बैठी महिलाओं ने वार्ताकारों के सामने कई शर्तें रखी हैं.

देश की सर्वोच्च अदालत ओर से शाहीन बाग में रास्ता खुलवाने के लिए भेजे गए तीन वार्ताकारों में से एक हबीबुल्लाह ने सुप्रीम कोर्ट में हलफनामा दाखिल किया. सुप्रीम कोर्ट में सोमवार को दो सदस्यीय बेंच इस मामले की सुनवाई करेगी. वजाहत के अलावा इस मामले में संजय हेगड़े और साधना रामचंद्रन को वार्ताकार बनाया गया है.

प्रदर्शनकारियों ने वार्ताकार के सामने सात मांगें रखते हुए कहा कि जब तक सीएए वापस नहीं लिया जाता, तब तक रास्ते को खाली नहीं किया जाएगा. हालांकि शनिवार शाम एक रास्ता खोला गया है.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें